सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों के इलाज हेतु NTPC अपने सभी इकाई के 45 अस्पतालों में उपलब्ध करा रही है सुविधा

कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों के इलाज हेतु NTPC अपने सभी इकाई के 45 अस्पतालों में उपलब्ध करा रही है सुविधा



 पवन शुक्लेश


लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया 



बीजपुर ,सोनभद्र। केंद्रीय उर्जा व नवीन व नवीनीकरण ऊर्जा मंत्री आर के सिंह के आवाहन को स्वीकार करते हुए विद्युत मंत्रालय के तहत एक केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम एनटीपीसी लिमिटेड बिजली आपूर्ति व मानवीय राहत उपायों के लिए अपने अस्पतालों व सीएसआर फंड दोनों का उपयोग सुनिश्चित करके कोरोनावायरस के प्रभाव को कम करने के लिए लगातार काम कर रही है वैश्विक महामारी कोविड-19 के खिलाफ अपनी स्वतंत्रता को बढ़ाते हुए एनटीपीसी ने पहले से ही अपने 45 अस्पतालों इकाइयों का उपयोग करके आइसोलेशन की सुविधा उपलब्ध करवाई है और ऐसे मामलों को प्रभावी ढंग से संभालने के लिए चिकित्सा कर्मचारियों के लिए अपेक्षित उपकरण की खरीद की है सभी अस्पताल इकाइयों में ऑक्सीजन आपूर्ति के साथ लगभग 168 आइसोलेशन बेड बनवाए हैं और अतिरिक्त 122 बेड जरूरत के आधार पर उपलब्ध कराए जाएंगे पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट और हैंड सैनिटाइजर कोरोना वायरस के खिलाफ सबसे सबसे बड़ी रोकथाम तंत्र के रूप में उभरा इसलिए एनटीपीसी ने सभी सीएमओ(CMO) के साथ एम ओ एच एफ डब्ल्यू (MOHFW) द्वारा जारी किए गए परीक्षण उपचार व परिवहन निर्देश साझा किए हैं मेडिकल स्टाफ को व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) के उपयोग के बारे में वीडियो कॉल पर भी प्रशिक्षित किया गया है इसके अलावा 1200 किट और 120000 सर्जिकल मास्क और 33000 से अधिक दस्तान 5000 एप्रन और 8000 जूता कवर काम सोता है 535 लीटर सैनिटाइजर और परियोजना और स्टेशनों को भेजे गए एनटीपीसी के कई स्टेशनों ने इस महामारी से बचाव के लिए तरह-तरह के प्रयास किए गए हैं और अब तक 3.50 करोड़ रुपए की राशि इस उद्देश्य के लिए दी गई है। इसके अलावा एनटीपीसी इस महामारी से निपटने के लिए जिला प्रशासन और स्थानीय अधिकारियों को 6.36 करोड रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान कर रहा है।   ताकि चिकित्सा सहायता और पीपीई, खाद्य पैकेटों के वितरण की व्यवस्था की जा सके। इसके अलावा, अपनी काॅपोर्रेट सामाजिक जिम्मेदारी के तहत,NTPC रिहन्द ने 17 लाख रूपये के 2800 बोरी खाद्यान्न और खाद्य पदार्थों के पैकेट को वंचित परिवारों के बीच वितरण के लिए जिला प्रशासन को सौपा। भारत सरकार द्वारा COVID-19 का मुकाबला करने के लिए CSR  फंड का उपयोग करने के लिए दिए गए। NTPC द्वारा पीएम केयर फंड को 250 करोड़ रुपए का योगदान दिया गया। इसके अतिरिक्त कर्मचारियों के वेतन का 7•50 करोड़ रुपए का योगदान भी पीएम केयर फंड में जमा किया गया है।


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वेतन तो शिक्षक का कटेगा भले ही वो महिला हो और महिला अवकाश का दिन हो , खंड शिक्षा अधिकारी पर तो जांच जारी है ही ,पर यक्ष प्रश्न आखिर कब तक  

महिला अवकाश के दिन महिलाओ का वेतन काटना तो याद है , पर बीएसए साहब को डीएम साहब के आदेश को स्पष्ट करना याद नहीं - शीतल दहलान , जिला अध्यक्ष , प्राथमिक शिक्षक संघ   सिस्टम ही तो है वरना जिस स्कूल में छः और आठ महीने से कोई शिक्षक नहीं आ रहा वहा साहब लोग जाने की जरूरत नहीं समझते  , पर महिला हूँ चीख चिल्ला ही सकती हूँ , पर हूँ तो निरीह ना - शीतल दहलान  विजय शुक्ल लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया दिल्ली।  खनन ,और शिक्षा दो ही ऐसे माफिया है जो आज सोनभद्र को दीमक की तरह खोखला कर रहे है, वो भी भ्रष्ट और सरपरस्ती में जी रहे अधिकारियो की कृपा से। बहरहाल लोकल न्यूज ऑफ इंडिया और कई समझदार लोग शायद शिक्षक पद की गरिमा को लेकर सोनभद्र में चिंतित नजर आते है।   चाहे म्योरपुर खंड शिक्षा अधिकारी को लेकर बेबाक और स्पष्ट वादी विधायक हरीराम चेरो का बयान हो कि   सहाय बदमाश आदमी है   या फिर ऑडियो में पैसे का आरोप लगाने वाली महिला शिक्षिका का अब भी दबाव में जीना और सिस्टम से लगातार जूझना जो जांच की छुरछुरछुरिया के साथ आरोपी खंड शिक्षा अधिकारी को अपने रसूख और दबाव का खेल घूम घूम कर साबित करने की इजाजत देता हो। 

विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्तिथि को लेकर जारी शासनादेश से पैदा हुई उहापोह की स्तिथि साफ़ करे बीएसए - शीतल दहलान , जिला अध्यक्ष , उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ , सोनभद्र 

विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्तिथि को लेकर जारी शासनादेश से पैदा हुई उहापोह की स्तिथि साफ़ करे बीएसए - शीतल दहलान  , जिला अध्यक्ष , उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ , सोनभद्र        सूर्यमणि कनौजिया  लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया  सोनभद्र। जनपद में ताजा ताजा जारी एक शासनादेश से शिक्षकों में एक उहापोह की स्तिथि बन गयी है जिसको लेकर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की जिला अध्यक्ष शीतल दहलान ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से मांग की है कि  वो इसको स्पष्ट करे।  पूरा मामला  मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश के दिनांक 30/08/2020 के शासनादेश संख्य2007/2020/सी.एक्स-3 के गाइड लाइन अनुपालन के क्रम में जिला मैजिस्ट्रेट /जिलाधिकारी सोनभद्र के दिनांक 31/08/2020 के पत्रांक 5728/जे.एनिषेधाज्ञा/ कोविड- 19/एल ओ आर डी /2020 के आदेशानुसार जिसके पैरा 1 मे उल्लिखित निम्न आदेश पर हुआ है।  जिसमे    1. समस्त स्कूल कॉलेज, शैक्षिक एवं कोचिंग संस्थान सामान्य शैक्षिक कार्य हेतु 30 सितम्बर 2020 तक बंद रहेंगे। यद्यपि निम्न गतिविधियों को शुरू करने की अनुमति होगी a. ऑनलाइन शिक्षा हेतु अनुमति जारी रहेगी और इसे प्रोत्साहित

सोनभद्र के बंटी-बबली का खेल अब जनता के सामने

सोनभद्र के बंटी-बबली का खेल अब जनता के सामने यू. पी. पुलिस इन्वेस्टिगेशन व पब्लिक सर्विस कमीशन का अपना फर्जी आई-डी कार्ड बनाकर जॉब लगवाने को लेकर लोगो का लाखो रुपए लूटा   मोहित मणि शुकला लोकल न्यूज़ ऑफ़ इंडिया सोनभद्र । एक ऐसा फर्जी पुलिस जो कि जनपद सोनभद्र का निवासी है और अपने फर्जी आई डी कार्ड के दम पर लोगो को जॉब दिलवाने के नाम पर व आने जाने के लिए टोल टैक्स पर पुलिस का रोब दिखा कर टोल टैक्स न देना फर्जीवारा करता आ रहा है। इस शख्स का नाम संतोष कुमार मिश्रा (पिता-आत्मजः राम ललित मिश्रा, सोनभद्र उत्तर प्रदेश) का रहने वाला है। संतोष कुमार मिश्रा फर्जी पुलिस की आई डी कार्ड बनाकर सोनभद्र में लोगो को गुमराह कर नौकरी के नाम मोटा रकम वसूल करके भागने की तैयारी में है। ये सोनभद्र या कहीं भी किसी भी टोल टैक्स पर पुलिस का फर्जी आई डी कार्ड दिखा कर निकल जाता है। इसका आई डी कार्ड "यू. पी. पुलिस इन्वेस्टिगेशन"* व "पब्लिक सर्विस कमीशन" के नाम पर बना हुआ है और बेखौफ जनपद सोनभद्र में ये घूम रहा है और लोगो को गुमराह कर रहा है। पैसे की लूट में इसकी लवर प्रिंसी भी इसका सा