सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

महाकुंभ के स्लोगन को दर्शाता गुब्बारा फटा : 3 छात्र गंभीर रूप से जख्मी

  गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। ऋषिकुल विद्यापीठ में महाकुंभ के स्लोगन को दर्शाता गुब्बारा अचानक फट गया। जिससे तीन छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें आनन-फानन में जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां उनकी गंभीर हालत को देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया है। इस वक्त शहर भर में कुंभ मेले को दर्शाते हुए कई गुब्बारे लगे है जिनमे एक गुब्बारा ऋषिकुल विद्यापीठ में भी लगा था जो बीती रात अचानक फट गया जिससे 3 छात्र गंभीर रूप से जख्मी हो गए जिनकी गंभीर हालत को देखते हुए ऋषिकेश के एम्स में भेजा गया । कुंभ मेले के स्वास्थ्य मेला अधिकारी अर्जुन सिह सेंगर ने बताया कि गुब्बारे में ब्लास्ट होने के कारण ऋषिकुल विद्यापीठ के 3 छात्र झुलस गए। हालत गंभीर होने के चलते सभी को ऋषिकेश के एम्स में भेजा गया। जिसमें से 2 छात्र ऋषिकेश एम्स में भर्ती हैं। जबकि, एक छात्र को देहरादून के कोरोनेशन हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है। फिलहाल, अभी छात्रों की हालत स्थिर है।

कुंभ क्षेत्र में बम विस्फोट व आगजनी में दर्जनों घायल

  कुंभ में संभावित खतरों के मद्देनजर किया गया माॅक ड्रिल का आयोजन गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। मेला प्रशासन एवं जिला प्रशासन द्वारा महाकुम्भ मेला के दौरान सम्भावित आपदाओं के मद्देनजर माॅक ड्रिल का आयोजन किया गया, जिसमें अलग-अलग परिस्थितियों में-आग लगना एवं बम बिस्फोट, गैस रिसाव जैसी संभावित घटनाओं का प्रदर्शन किया गया। बैरागी क्षेत्र में 09 बजकर 11 मिनट पर सिलेण्डर से आग लगने की सूचना कण्ट्रोल रूम को प्राप्त हुई। तुरन्त ही बैरागी से स्टेजिंग एरिया के लिये टीम रवाना हुई। फायर टेण्डर, एसपीओ और एसएम मौके पर पहुंचे। उन्होंने त्वरित गति से आग बुझाने की कार्रवाई प्रारम्भ कर दी। इस तरह कुछ ही मिनटों में आग बुझा दी गयी। अग्नि काण्ड में चार घायल लोगों को चीला मार्ग से एम्स ऋषिकेश भिजवाया गया। बैरागी क्षेत्र में ही 9 बजकर 40 मिनट पर दो टेण्टों में आग लगने की सूचना प्राप्त हुई, मौके पर तुरन्त टीम पहुंची, जिसने समय रहते आग पर काबू पा लिया, जिसमें चार लोग आंशिक रूप से घायल हुये, जिनका मौके पर ही प्राथमिक उपचार किया गया। माॅक ड्रिल के दौरान कण्ट्रोल रूम को 9 बजकर 15 मिनट पर एक काॅल

कार की टक्कर से नीलगाय जख्मी ;मौके पर नहीं पहुंचा वन विभाग

  गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार ।भेल में सोलर प्लांट के पास सड़क पार कर रही नील गाय कार से टकराकर पास स्थित नाले में जा गिरी और उपचार ना मिल पाने से उसकी मौत हो गई जबकि कार को भी काफी नुकसान पहुंचा । मौके पर पुलिस भी थीं किन्तु वन विभाग की टीम सूचना देने के बाद भी मौके पर नहीं पहुंची थीं । ज्ञात हो कि वन क्षेत्र से लगता इलाका होने के कारण भेल (भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड) के किसी भी क्षेत्र में वन्य जीवो का आवागमन लगा रहता है जिनमे सर्वाधिक नीलगाय अक्सर सड़क पर आ जाती है । आज भी एक नीलगाय अचानक सड़क पर आ गई और वह से गुजर रही एक वैगनआर कार संख्या mh43 L 1837 se टकराकर पास ही नाले में जा गिरी । जिससे मौके पार लोगो का हुजूम इक्कठ्ठा हो गया तभी मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को हटाया मगर तमाशबीन लोग फोटो खींचते दिखे जबकि वहीं भीड़ में से किसी ने वन विभाग को सूचित भी किया परन्तु समाचार लिखे जाने तक बेजुबान का रेस्क्यू करने मौके पार कोई नहीं पहुंचा था ।

स्कूल बंद तो यूनिफार्म क्यों,फोन एक बच्चे दो ; कैसे होगी आनलाइन क्लास

  (निजी स्कूलों की मनमानी ने एक बार फिर से बढ़ाई माता पिता की चिंता) गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। कोरोना के चलते पिछले एक साल से बंद पड़े स्कूलों का नया सत्र फिर से शुरू होने जा रहा है और इसी के साथ ही एक बार फिर निजी स्कूलों ने अपनी मनमानी भी शुरू कर दी है। एक तरफ पब्लिशर्स परेशान हैं तो दूसरी ओर अविभावक ऐसे में इनकी सुनता कौन है । लाक डाऊन के बाद देशभर के अविभावकों की हालत पतली हो गई लेकिन ना तो निजी स्कूल प्रशासकों को दया आई ना ही सरकार से कुछ रियायत मिली उपर से नए सत्र ने सभी अविभावकों की चिंता जरूर बाधा दी । निजी स्कूलों की मनमानी का एक नमूना देखने को मिला जिसमे डी ए वी पब्लिक स्कूल ने आनलाइन क्लास के दौरान यूनिफार्म पहनने का फरमान जारी कर दिया जिसके पीछे स्कूली बच्चों की यूनिफार्म के नाम पर चांदी काटने वाले दुकानदार और स्कूलों की मिलीभगत नजर आने लगी हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार लक्सर रोड स्थित डीएवी पब्लिक स्कूल ने कक्षा शुरू होने से पहले ही अभिभावकों को यह मैसेज जारी कर दिया कि ऑनलाइन क्लासेज में बच्चे यूनिफॉर्म पहनकर बैठेंगे। अभिभावक यह मैसेज पाते ही हक्के बक्के

पंचायती उदासीन बडा अखाडा की पेशवाई में कोरोना के प्रति जागरूक करते रेडक्रास के स्वयंसेवक

  गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । आज निकाली गयी श्री पंचायती उदासीन बडा अखाडा की पेशवाई में रेडक्रास के स्वयंसेवकों ने कोविड-19 गाइडलाइन पालन के लिये जनजागरण अभियान चलाया। पेशवाई में उपस्थित सभी महन्तों, महामण्डेलश्वरों, साधु-संतो, उपस्थित जनमानस तथा पेशवाई देख रहे दर्शकों को बीस हजार मास्क वितरित किये। सभी को सेनेटाइजर भी वितरित किये। पेशवाई में सबसे आगे रेड क्रास स्वयंसेवकों की कोरोना के प्रति जागरूक करते हुए झांकियां चल रही थी। जिसमें सभी रेडक्रास स्वयं सेवक कोविड-19 गाइडलाइन पालन के लिये पोस्टर, बैनर स्लोगन को प्रदर्शित करने के साथ जनसमाज को विशेष रूप से कोरोना के प्रति जागरूक कर रहे थे। रेडक्रास सचिव डा. नरेश चैधरी ने बताया कि कुम्भ मेला तभी सकुशल सम्पन्न हो पायेगा जबकि कोरोना के प्रति जो लापरवाही जनसमाज कर रहा है उसके प्रति सजग व सतर्क रहे। भारत सरकार की कोविड-19 गाइडलाइन में मुख्य रूप से दवाई भी कडाई भी का पालन करना सर्वोच्च प्राथमिकता में है। हमें अपने दायरे के अनुसार वैक्सीन भी लगवानी है और सामाजिक दूरी मास्क लगाना जरूरी एवं हाथों को बार-बार धोना भी हमारी दैनिक दिनचर

अव्यवस्थाओं व भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुका है कुंभ : किशोर उपाध्याय

  गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार ।कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने आज हरिद्वार में प्रेस वार्ता कर कहा कि हरिद्वार कुंभ पूरी तरह अव्यवस्थाओं व भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुका है । कुंभ में लगने वाले धन का दुरुपयोग हो रहा है अतः वह इसकी मांग करते है कि हाईकोर्ट के न्यायधीश की निगरानी वाली कमेटी बने जो कुंभ में हो रहे कार्यों की जांच करे । किशोर उपाध्याय ने भाजपा सरकार पर ये आरोप लगाया कि सरकार कुंभ के बजट को ठिकाने लगाने में लगी हुई है। इसके साथ उन्होंने राज्य सरकार से अखाड़ों को दिए जाने वाले धन का भी खुलासा करने की मांग की ; साथ ही यहां आने वाले साधू संतो को भी उचित सुविधाए दिलाने में नाकाम रही है उन्होंने भाजपा की केंद्र व प्रदेश की तीरथ सरकार को घेरते हुए कहा कि ये खुद को साधू संतो की पार्टी कहते है आज भी साधू सन्यासी सबसे ज्यादा व्यथित है । उन्होंने कहा कि काम ये ग़लत कर रहे है और पीटे अधिकारी जा रहे है विदित हो की दो दिन पूर्व ही अप्र मेलाधिकारी हरबीर सिंह बैरागी संतो के गुस्से का शिकार हुए थे। उन्होंने कहा कि कुंभ में ऐसे कोई बड़े स्थाई काम नहीं हुए ज

पंच दशनाम जूना अखाड़ा ने शुरू की सन्यास दीक्षा

  पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। नागा संन्यासियों के सबसे बड़े अखाड़े श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा में आज से सन्यास दीक्षा का बृहद आयोजन शुरू हो गया है। जूना अखाड़े के अंतरराष्ट्रीय सचिव व कुंभ मेला प्रभारी महंत महेशपुरी के मुताबिक संन्यास दीक्षा के लिए सभी चारों मढ़ियों, जिसमें चार, सोलह, तेरह और चैदह मढ़ी शामिल हैं, उन नागा संन्यासियों का पंजीकरण किया गया। आवेदकों की बारीकी से जांच के बाद दीक्षा के लिए केवल योग्य एवं पात्र साधुओं का ही चयन किया गया। उन्होंने बताया कि नागा संन्यासी बनने के लिए कई कठिन परीक्षाओं से गुजरना पड़ता है। इसके लिए सबसे पहले नागा संन्यासी को महापुरुष के रूप में दीक्षित कर अखाड़े में शामिल किया जाता है। तीन सालों तक महापुरुष के रूप में दीक्षित संन्यासी को संन्यास के कड़े नियमों का पालन करते हुए गुरु सेवा के साथ-साथ अखाड़े में विभिन्न कार्य करने पड़ते हैं। तीन साल की कठिन साधना में खरा उतरने के बाद कुंभ पर्व पर उन्हें नागा बनाया जाता है। दीक्षा प्रक्रिया आचार्य महामंडलेश्वर के दिशा-निर्देशन में चल रही है।