सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

संघ के स्वयंसेवक खुद की प्रेरणा से सेवा कार्य मे जुटता: पदम् सिंह

  कार्यकर्ताओं का यातायात व्यवस्था का समापन गंगा स्नान के बाद अपने अपने गंतव्यों को रवाना गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने कुम्भ में यातायात व्यवस्था में पुलिस का सहयोग कर संघ के स्वभाव का परिचय दिया है। संघ की शाखाओं में सिखाये जाने वाले व्यक्ति निर्माण की परिभाषा को संघ कार्यकर्ताओं ने चरित्रार्थ किया है। यह विचार आरएसएस के क्षेत्र प्रचार प्रमुख(प.उप-उत्तराखण्ड) पदम सिंह ने यातायात व्यवस्था के समापन अवसर पर व्यक्त किये। हरकी पौड़ी पर गंगा स्नान से पूर्व समापन कार्यक्रम में आरएसएस प्रचारक पदम सिंह ने कहा कि जिन्हें संघ को समझना है उनके लिए यह अच्छा मौका है। संघ के स्वयंसेवकों के आचरण व व्यवहार से संघ को समझा जा सकता है।उन्होंने कहा कि संघ के स्वयंसेवक खुद की प्रेरणा से सेवा कार्य मे जुटता है। कार्यकर्ताओं में देश,समाज, धर्म के प्रति कर्तव्य की भावना स्वयं से जाग्रति होती है। उन्होंने कहा कि स्वयंसेवको ने कुंभ यातायात व्यवस्था में लगने से पहले मां गंगा को साक्षी मानकर सेवा का जो संकल्प लिया था वह आज पूर्ण हुआ है। उन्होंने कहा कि क

जगतगुरू शंकराचार्य स्वरूपानंद जी के शिविर में आयुध चंडी महायज्ञ शुरू

दस दिन तक चलने वाले इस महायज्ञ में 1करोड़ से भी ज्यादा डी जाएंगी आहुतियां गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । हरिद्वार महाकुंभ में पधारे ज्योति,शारदा मठ के जगतगुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सस्वती जी के शिविर में आयुध चंडी महायज्ञ चल रहा है । जो नवरात्र के प्रथम दिन से प्रारम्भ होकर दशमी तिथि को पूर्णाहुति के साथ सम्पन्न होगा ।  यज्ञ की सम्पूर्ण जानकारी देते हुए आचार्य की ने बताया कि इस आयुध चंडी महायज्ञ में 100 हवन कुंडो का निर्माण किया गया जैसे अग्नि के सौ मुख है वैसे ही 100 हवन कुंड बनाए गए है उन सौ कुंडो में 1 करोड़ से ज्यादा आहुतियां इस सप्तकोटी होम  के माध्यम से दी जाएंगी । उन्होंने आगे बताते हुए कहा कि गुरु जी की आज्ञा से चैत्र नवरात्र के शुभ अवसर पर मा दुर्गा की आराधना के लिए इस आयुध चंडी महायज्ञ को सभी की सुख समृद्धि की कामना ,विश्व के कल्याण के लिए और सनातन धर्म एवं सनातन संस्कृति की रक्षा की कामना हेतु जगतगुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद जी महाराज के सानिध्य एवं स्वामी अविमक्तेश्वरानंद जी के निर्देशन में किया जा रहा है । इससे पूर्व जगतगुरू शंकराचार्य स्वामी स

कुंभ का मुख्य शाही स्नान सम्पन्न मु.मंत्री,मेलाधिकारी व आईं जी ने किया आभार प्रकट

महाकुंभ का मुख्य शाही स्नान सफलता पूर्वक सम्पन्न 13 लाख 50 हजार से अधिक लोगों ने गंगा में लगाई पवित्र डुबकी पहली बार कुम्भ में एन एस जी की तैनाती कोरोना को देखते हुए प्रशासन सतर्क, टेस्ट रिपोर्ट न लाने पर सीमा से करीब 56 हजार श्रद्धालु लौटाए गये हर दिन करीब 50 हजार लोगों के हो रहे हैं कोरोना टेस्ट गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । कुम्भ मेला का मुख्य शाही स्नान सकुशल और सुव्यवस्थित तरीके से संपन्न हो गया। मेष संक्रांति के स्नान पर विगत के कुम्भ मेलों में घटित कुछ अप्रिय घटनाओं के इतिहास एवं कोविड की अभूतपूर्व चुनौतियों को देखते हुए शाही स्नान को सुव्यवस्थित व निर्विघ्न संपन्न कराना एक बड़ी चुनौती माना जा रहा था। इन चुनौतियों के बीच मुख्य शाही स्नान बिना किसी अप्रिय घटना के सफलतापूर्वक संपन्न हो गया। सायं तक 13 लाख 51 हजार श्रद्धालु कुम्भ क्षेत्र के विभिन्न घाटों पर स्नान कर चुके थे। मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने कुम्भ मेले के मुख्य शाही स्नान के सकुशल सम्पन्न होने पर मेले से जुडे़ अधिकारियों, कर्मचारियों, सुरक्षाकर्मियों, स्वयंसेवी संस्थाओं सहित सभी जनमानस को बधाई देते हुए

शंकराचार्य स्वामी अधोक्षजानंद देवतीर्थ ने आज दंडी स्वामियों के साथ गंगा स्नान किया।

  प.विनय शर्मा हरिद्वार । गोवर्धन पुरी पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी अधोक्षजानंद देवतीर्थ ने आज दंडी स्वामियों के साथ गंगा स्नान किया। विदित हो की आज कुम्भ का दुर्लभ संयोग है। हरिद्वार में कुम्भ 2010 के बाद 11 वर्ष पश्चात हो रहा है। शिवरात्रि एवं सोमवती अमावस्या के उपरांत यह कुम्भ का तीसरा शाही स्नान है। इस अवसर पर गोवर्धन पुरी पीठधीश्वर शंकराचार्य स्वामी अधोक्षजानंद देवतीर्थ ने सैकड़ों दंडी स्वामियों के साथ गंगा में स्नान किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा की कुंभनगरी में आज मेष संक्रांति पर शाही स्नान व बैसाखी का पर्व स्नान के लिए दुर्लभ संयोग लेकर आया है। उन्होंने कहा की कुम्भ की परंपरा पौराणिक है तथा सदियों से शंकराचार्यों, संतों महात्माओं के सानिध्य में कुम्भ मेले होते आये हैं। स्वामी अधोक्षजानंद देवतीर्थ ने कहा की कुंभ मेले और कुंभ घट को साधारण पर्व या मात्र शाही स्नान पर्व न मानें। इस कुंभ में अनादि त्रिदेवों, सप्त समुद्रों और चारों वेदों का निवास है। कुंभ महापर्व के प्रतीक कुंभ घट में पृथ्वी और आकाश भी समाए हुए हैं। कुंभ कलश का घट स्वरूप पवित्रता और अनंत मांगल्य का प्रतीक है।

जगद्गुरु शंकराचार्य ने नीलधारा चंडी टापू में ब्रह्मकुंड नीलधारा गंगा में किया स्नान

पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । पूज्य जगद्गुरु शंकराचार्य जी महाराज ने नीलधारा चंडी टापू मैं आज ब्रह्मकुंड नीलधारा गंगा स्नान किया कुंभ स्नान पर्व मैं पूज्य महाराज श्री ने सभी देशवासियों को दिया धर्म संदेश कोरोना के चलते जो भी व्यक्ति इस कुंभ में स्नान करने नहीं आ पाया है वह जहां भी हो जिस भी नदी के पास हो उस नदी में मां गंगा का ध्यान करके स्नान करेगा उसको मां गंगा के स्नान का फल जरुर मिलेगा और कोरोनावायरस से अपने को सुरक्षित जरूर रखें माक्स लगाकर उचित दूरी जितना हो सके ईश्वर का ध्यान करते रहें हैं और नियमों का पालन करें यह एक महामारी जैसी बीमारी है इससे प्राण बचाना जरूरी है इस मौके पर मुख्य रूप से स्वामी श्री अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी एवं ब्रह्मचारी सुबोधानंद जी महाराज ब्रह्मचारी सहजानंद जी ब्रह्मचारी ब्रह्मविद्यानंद जी ब्रह्मचारी नारायणानंद जी ब्रह्मचारी सारदानंद जी ब्रह्मचारी मुकुंदानंद ब्रह्मचारी केशवानंद ब्रह्मचारी शरणानंद ब्रह्मचारी विश्वरूपानंद आदि भक्तों ने साथ में स्थान स्नान किया।

कुंभ में लगे स्वमी विवेकानंद मिशन के पंडाल में भीषण आग

    पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। कनखल संन्यास मार्ग स्थित स्वमी विवेकानंद मिशन के पंडाल में भीषण आग लगने से पंडाल कुछ ही मिनटो में जलकर पूरी तरह से राख्र हो गया। सूचना पर पहुंची दमकल की चार गाड़ियों ने बामुश्किल आग पर काबू पाया। शाही स्नान होने के कारण पंडाल में कुछ ही कर्मचारी मौजूद थे जिस कारण से कोई जन हानि नहीं हुई। मिली जानकारी के मुताबिक संन्यास मार्ग स्थित आर्य इण्टर कालेज के कैंपस में स्वामी विवेकानंद मिशन का शिविर लगा हुआ था। बुधवार सुबह करीब 11.30 बजे पंड़ाल में अचानक आग लग गयी। लगते ही आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और कुछ ही मिनटों में पंड़ाल जलकर पूरी तरह से राख हो गया। पंड़ाल में रखे सिलेंडरों के भी आग पकड़ लेने से आग विकराल हो गयी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। जब तक आग पर काबू पाया गया तब तक सब कुछ जलकर राख हो गया था। आग के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है।

पूर्णानंद आश्रम के 20 टेंटो में आग लगने से मचा हड़कंप

गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। बुधवार को शाही स्नान के दौरान कनखल थाना क्षेत्र के पूर्णानंद आश्रम में स्थित टेंट में आग लग गई। इस आग ने देखते ही देखते 20 टेंटों को अपनी चपेट में ले लिया। जिससे आश्रम में हड़कंप मच गया। अग्निशमन विभाग की 10 से अधिक फायर यूनिट मौके पर हैं। इसके साथ ही कनखल थाना प्रभारी भी मौके पर मौजूद हैं। मेला प्रभारी भी मौके पर हैं। आग बुझाने का काम जारी है। बताया कि खाना बनाते वक्त एक टेंट में आग लगी जो बाकी अन्य टेंटों में फैस गई। टेंटों में रखा सारा सामान जल गया है। राहत की बात यह है की आग में कोई हताहत नहीं हुआ। इससे पहले हरिद्वार के कुंभ मेला क्षेत्र में बैरागी कैंप के बाजरीवाला की बस्ती में आग लग गई थी। सूचना पर कुंभ मेला अग्निशमन विभाग की टीम मौके पर पहुंची थी। एक वाहन से आग बुझाना संभव नहीं था, लिहाजा मायापुर अग्निशमन केंद्र से दो वाहन मंगवाए गए। कुल आठ वाहनों की मदद से तीन घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका। आग से करीब 50 झोपड़ियां राख हो गईं थीं।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एक जिम्मेदार संगठन है : राहुल सारस्वत

वैशाखी पर्व पर ए बी वी पी ने लोगो को शर्बत बांटे गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार ।अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ए बी वी पी) द्वारा 11 अप्रैल से देवपुरा पर लगाए गए चिकित्सा शिविर में आज वैशाखी के पर्व पर शर्बत का भी वितरण किया गया । शिविर में उपस्थित ए बी वी पी के विभाग संगठन राहुल सारस्वत ने बताया कि हमने कुंभ को उत्सव के रूप में मनाने का निर्णय किया था जिसे हम 6 अप्रैल से 30अप्रैल तक चलाने वाले है । कुंभ मेला 2021 को यादगार बनाने के लिए प्रत्येक छात्र की भूमिका सुनिश्चित करते हुए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने  सर्वप्रथम 6अप्रैल को वी आईं पी घाट पर 21 हजार दीपक जलाकर अपने कुंभ अभियान का शुभारंभ किया था उसके बाद 11अप्रैल से चिकित्सा शिविर यहां (देवपुरा) लगाया था जिसमे दवा के साथ साथ मास्क व सैनिटाइजर का वितरण किया जा रहा है और आज संगठन की ओर से बैसाखी के पावन पर्व पर शर्बत की छबील भी लगाई गई । राहुल सरास्वत ने बताया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एक जिम्मेदार संगठन है और अपनी जिम्मेदारियों की बाखूबी निभाता है अतः 11अप्रैल से चलने वाला यह शिविर तो आज समाप्त हो जाएगा परन्

बैसाखी पर्व का स्नान आज श्रृद्धालुओ ने लगाई आस्था की डुबकी

  गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । हरिद्वार में आज बैसाखी का स्नान हुआ जिसमे देश भर से आये श्रद्धालुगण कुम्भ पर्व पर माँ गंगा में स्नान किया व माँ गंगा से आराधना की कि उनका जीवन शांतिपूर्वक बीते और जिस तरह से ईश्वर द्वारा उनपर कृपा की गयी है वो आगे भी बनी रहे तथा धरती माँ इसी तरह से फसल प्रदान करती रहे | दरअसल बैशाखी के अवसर पर गेहू की फसल तैयार हो जाती है और इस दिन से फसल कटनी शुरू हो जाती है ।जबकि इसी दिन खालसा पंथ की स्थापना भी की गयी थी । यही बजह है कि यह त्यौहार पंजाबी समुदाय में खासी धूमधाम से मनाया जाता है ।बैशाखी पर गंगा स्नान का विशेष महत्व है । स्नान का महत्व होने से हरिद्वार में बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते है और माँ गंगा का स्नान कर दान ,भंडारा आदि करते है। आज का बैशाखी स्नान कुंभ पर्व पर पड़ रहा है आज सुबह 7 बजे तक श्रृद्धालुओ ने हर की पौड़ी पर बैसाखी का स्नान किया उसके बाद हर की पैड़ी को शाही स्नान के लिए श्रृद्धालुओ से खाली करा ली गई जिसके बाद सभी प्रमुख तेरह अखाड़े बारी बारी से क्रमवार स्नान करते हुए अपने अपने अखाड़ों को लौट गए ।

अक्षय तृतीया को खुलेंगे गंगोत्री धाम के कपाट

पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया   हरिद्वार । नवसंवत्सर एवं नवरात्रि के प्रथम दिन आज गंगोत्री धाम के कपाट खुलने की तिथि और शुभ मुहूर्त की घोषणा की गई। गंगोत्री धाम के कपाट आगामी 15 मई को अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर शनिवार को मिथुन लग्न में शुभ बेला पर सुबह 7 बजकर 30 मिनट पर पूरे विधि-विधान से साथ खोले जाएंगे। वहीं यमुनोत्री धाम के कपाट उद्घाटन की तिथि की घोषणा आगामी 18 अप्रैल को यमुना जन्मोत्सव के अवसर पर यमुनोत्री मंदिर धाम समिति के पदाधिकारी यमुना जी के शीतकालीन प्रवास खरसाली में करेंगे। नवरात्रि के अवसर पर गंगोत्री धाम मंदिर समिति के पदाधिकारियों ने एक बैठक आहूत की। इसमें पूर्वाह्न 11 बजकर 5 मिनट पर शुभ मुहूर्त पर गंगोत्री धाम के कपाट की ग्रीष्मकाल के लिए उद्घाटन की तिथि की घोषणा की। समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल ने कहा कि आगामी 14 मई को शुक्ल पक्ष के कर्क लग्न की शुभ बेला पर बैशाख द्वितीय को 11 बजकर 45 मिनट पर मां गंगा की डोली शीतकालीन प्रवास मुखबा से गंगोत्री धाम के लिए रवाना होगी। उसके बाद पैदल गंगोत्री धाम की डोली यात्रा रात्रि विश्राम के लिए भैरो घाटी स्थित भैरो मंदिर पहु

नरेंद्र गिरी की बिगड़ी तबीयत हुए एम्स में भर्ती

गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि महाराज की तबीयत बिगड़ने के बाद उनको बीती रात एम्स ऋषिकेश में इमरजेंसी में भर्ती कराया गया। यहां प्रारंभिक जांच के बाद उन्हें आईपीडी में शिफ्ट कर दिया गया। जहां उनका उपचार चल रहा है। उनकी देखरेख में लगे चिकित्सकों ने बताया कि नरेन्द्र गिरि मधुमेह के रोगी हैं व उन्हें बुखार व कफ की शिकायत है। सामान्य जांच के बाद उनका उपचार शुरू कर दिया गया है। चिकित्सकों के अनुसार वह पूरी तरह से स्टेबल हैं। बता दें कि तीन दिन पूर्व तबीयत बिगड़ने पर श्रीमहंत नरेन्द्र गिरि को कनखल स्थित एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। जहां उनकी कोरोना जांच की गयी। जिसमें वे संक्रमित पाए गए थे। संक्रमित पाए जाने के बाद उन्होंने स्वंय को आईसोलेट कर लिया था। इसके बाद सोमवार रात को उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गयी। जिसके बाद उन्हें ऋषिकेश एम्स में इमरजेंसी में भर्ती कराया गया।

नवसंवत् के दिन हुआ भगवान परशुराम चौक का लोकार्पण

    गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। भारतीय नववर्ष पर पंचपुरी हरिद्वार के समस्त ब्राह्मण समाज द्वारा सामूहिक प्रयत्न से तीर्थ नगरी हरिद्वार में पुराना रानीपुर मोड पर भगवान परशुराम मार्ग पर चिरंजीवी भगवान परशुराम जी के नाम से निर्मित चौक का लोकार्पण एवं नवसंवत् पूजन जगद्गुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानन्द सरस्वती के शिष्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती द्वारा किया गया। इस मौके पर वैदिक ब्राह्मणों द्वारा नवसंवत् का स्वागत वैदिक मंत्रों, मंगल शंख ध्वनि से विश्वमंगल की कामना से किया गया। स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द ने कहा कि सर्वस्पर्शी एवं सर्वग्राह्य भारतीय संस्कृति के दृष्टा मनीषियों और प्राचीन भारतीय खगोल-शास्त्रियों के सूक्ष्म चिन्तन-मनन के आधार पर की गई कालगणना से अपना यह नव-संवत्सर पूर्णतरू वैज्ञानिक एवं प्रकृति-सम्मत होने के साथ ही हमारे राष्ट्रीय स्वाभिमान एवं सांस्कृतिक ऐतिहासिक धरोहर को पुष्ट करने का पुण्य दिवस भी है। उन्होंने कहाकि ये भी माना जाता है कि इसी दिन से सतयुग की शुरुआत हुई थी। विक्रम संवत सबसे अधिक प्रासंगिक, सार्वभौमिक और वैज्ञानिक कैलेंडर है। उन्होंन

शाही स्नान को लेकर पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन धरने पर

  गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । कुंभ मेले के दूसरे शाही स्नान सोमवती अमावस्या पर्व पर संत मेला प्रशासन से नाराज हो गए। पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के संत शाही स्नान का समय पूरा होने के बाद भी स्नान न कर पाने के कारण नाराज हो गए और सडक पर ही धरने पर बैठ गए। बता दें कि शाही स्नान के लिए सभी अखाड़ों का स्नान का क्रम निर्धारित था। इसी के साथ कितने समय में स्नान करके वापस लौटना है यह भी निर्धारित था। पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन की जमात अपने निर्धारित समय 12.30 बजे दक्ष मंदिर के समीप छावनी से निकली, किन्तु समय पूरा होने के बाद भी वे हरकी पौड़ी तक नहीं पहुंच पाए। अखाड़े के श्रीमहंत महेश्वर दास महाराज का कहना है कि समय अवधि बीत जाने के बाद भी उनके अखाड़े के संत स्नान नहीं कर पाए। समय होने के बाद भी उन्हें रास्ते में रोके रखा। जबकि समय पूरा होने के बाद भी बैरागी अखाड़े स्नान करते रहे। उन्होंने कहाकि प्रशासन ने समय निर्धारित करने के बाद भी उनके स्नान करने में देरी की है। संतों के धरने पर बैठने की सूचना मिलते ही प्रशासन में हडकंप मच गया। संत मेला अधिकारी को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे ह

कुंभ का दूसरा शाही स्नान जारी लाखो श्रृद्धालुओ ने लगाई आस्था की डुबकी

पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। आज सोमवती अमावस्या पर कुंभ का दूसरा शाही स्नान है, हरिद्वार में लाखों श्रद्धालु पवित्र स्नान के लिए पहुंचे। हरकी पौड़ी पर अखाड़ों का शाही स्नान जारी है। दोपहर तक श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा, जूना अखाड़ाघ् तथा महानिर्वाणी अखाड़े के साधु संतों ने स्नान कर लिया है। बैरागी अखाड़ों की तीनों अणियों निर्मोही, दिगंबर तथा निर्वाणी भी स्नान कर चुके हैं। श्रभ् पंचायती उदासीन अखाड़ा बड़ा का स्नान जारी है। कुंभ के दूसरे शाही स्नान पर सर्वप्रथम श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा के साथ आनन्द अखाड़े के संतों ने शाही स्नान किया। निरंजनी पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने सबसे पहले गंगा पूजन किया उनके साथ आनंद अखाड़ा के आचार्य बालकानंद गिरी और उनके साथी साधु संतों ने स्नान किया। उनका स्नान संपन्न होने के बाद जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी की अगुवाई में जूना अखाड़े के संत महंतों ने गंगा में डुबकी लगाई। जूना अखाड़ा के साथ अग्नि, आह्वान तथा किन्नर अखाड़े ने भी स्नान किया। तीसरे क्रम पर महानिर्वाणी के साथ अटल अखाड़े के साधु संतों ने स्नान किया।

किन्नर अखाड़े की प्रमुख लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी की बिगड़ी तबीयत

  शाही स्नान कर लौट रही थी लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी गणेश कुमार वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। शाही स्नान के तुरंत बाद हरकी पैड़ी पर किन्नर अखाड़े की प्रमुख लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी की तबीयत खराब हो गई। ये देखकर प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। आनन-फानन में हरकी पैड़ी से एंबुलेंस में लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी को अस्पताल ले जाया गया। लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी गंगा स्नान के बाद जैसे ही वह गंगा सभा कार्यालय से आगे निकलीं वैसे ही उनकी तबीयत बिगड़ गई। वह लड़खड़ाने लगीं। जिसके बाद सर पर हाथ रखते हुए वह कुछ कदम आगे बढ़ीं। लेकिन अचानक उनके भक्तों ने उन्हें संभाला। बाद में प्रशासन ने एंबुलेंस से उन्हें अस्पताल भेज दिया। ज्ञात रहे कि हरिद्वार कुंभ में पहली बार किन्नर अखाड़ा भी शाही स्नान में शामिल हुए है वह जूना व अग्नि अखाड़ों के साथ क्रम से स्नान में शामिल हो रहा है ।

सीएम की सक्रियता से तेज हुआ कोविड टीकाकरण

सूबे में 85 लाख से अधिक लोगों ने करवाया टीकाकरण  टीकाकरण पर रखी जा रही निगाह, अस्पतालों में बेड बढ़ाए गए   सीएम से प्रयास से केंद्र से और मिली मिलीं 20 लाख कोरोना वैक्सीन प्रभा पांडेय  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  लखनऊ। कोरोना से लोगों के बचाव को लेकर सूबे की सरकार अलर्ट मोड़ पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए सूबे में किए गए चिकित्सा प्रबंधों की रोज समीक्षा कर रहें हैं। सूबे में रोज कितने लोगो कोरोना की चपेट में आ रहें हैं और उनके इलाज के लिए जिलों में क्या क्या कदम उठाये जा रहें है? और कोविड टीकाकरण अभियान के तहत राज्य में रोज कितने लोगों ने कोरोना टीकाकरण कराया ? इसकी भी समीक्षा मुख्यमंत्री रोज कर रहे हैं। मुख्यमंत्री की इस सक्रियता के चलते जहां राज्य में कोरोना मरीजों के इलाज की व्यवस्था बेहतर हुई हैं वहीं दूसरी तरफ 85 लाख से अधिक लोगों ने कोविड टीकाकरण करा लिया है। सूबे में कोविड टीकाकरण अभियान में कोई रूकावट ना आने पाए, इसके लिए मुख्यमंत्री के प्रयास से केंद्र सरकार ने  प्रदेश को और 20 लाख कोरोना वैक्सीन दी हैं।  यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सक्र

एफपीओ खोलेगा आगरा में प्रदेश की पहली निजी मंडी

शासन को भेजा प्रस्ताव, जल्द मुहर लगने की उम्मीद, आजादपुर मंडी और बिग बास्केट सहित आईटीसी को होगी सब्जियों की सप्लाई मल्टीनेशनल कंपनियों की तर्ज पर खेत से लेकर घर तक सब्जी पहुंचा रही एफपीओ किसानों ने आपदा में अवसर तलाशा, खेत से लेकर घर तक की सब्जी की आपूर्ति प्रभा पांडेय  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  लखनऊ ।किसानों की आय दुगुनी करने की दिशा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुहिम रंग ला रही है। आगरा के एक फार्मर्स प्रोड्यूसर आर्गनाईजेशन (एफपीओ) ने प्रदेश की पहली निजी मंडी खोलने की तैयारी कर ली है। अपने आप में अनूठी इस मंडी में किसान की फसल किसान ही खरीदेंगे और उसे आजादपुर मंडी के आढ़तियों और बिग बास्केट सहित मल्टीनेशनल कंपनी आईटीसी को बेचेंगे। इसके लिए एफपीओ ने मंडी परिषद के माध्यम से प्रस्ताव शासन को भेजा है। उम्मीद है कि शासन की ओर से जल्द लाइसेंस जारी कर दिया जाएगा। दिव्यभूमि एग्रीक्राप प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड में आगरा के आसपास के 20 से अधिक गांवों के 500 से अधिक किसान जुड़े हैं। इस एफपीओ ने ब्लॉक सैंयां छितापुरा नंगला बिरई में तीन बीघे जमीन में निजी मंडी खोलने की तैयारी की है। फिलहाल, दिव

कुंभ मेला पुलिस का संत समाज के साथ शाही स्नान को लेकर विचार विमर्श

  गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । भल्ला कालेज स्टेडियम में बने कुंभ मेला पुलिस लाइन मे शनिवार को विभिन्न अखाड़़े के संत महात्माओं की मौजूदगी में आगामी शाही स्नान को लेकर विचार विमर्श किया गया। मेलाधिकारी दीपक रावत, आईजी कुंभ मेला संजय गुंज्याल ने अखिल भारतीय अखाड़़ा परिषद के महामंत्री श्री महंत हरिगिरि जी महाराज, श्री महंत सत्यगिरि जी, श्री पंचायती अखाड़़ा श्री निरंजनी के सचिव और मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्री महंत रविन्द्र पुरी जी महाराज, श्री पंचायती अखाड़़ा महानिर्वाण कनखल के श्री महंत रवींद्र पुरी जी महाराज, अखिल भारतीय श्री पंच निर्वाणी अणि अखाड़़े के श्री महंत धर्मदास, श्री महंत रामदास सहित अन्य अखाड़़े के पूज्य संतों का माल्यार्पण कर शाल और अंगवस्त्र ओढ़ाकर स्वागत किया । आईं जी संजय गुंज्याल ने अखाड़़े के संतों को शाही स्नान के रूट, समय और व्यवस्था की जानकारी दी। चर्चा के दौरान आईजी ने आगामी शाही स्नान की व्यवस्थाओं की विस्तार से जानकारी दी। अधिकारियों ने अखाड़़े के संतजनों से इस पर सुझाव और आशीर्वाद मांगा। मेलाधिकारी दीपक रावत ने कहा आपसी सौहार्द और समन्वय से शाही स्ना

कुंभ मेले के शाही स्नान के लिए यातायात प्लान जारी

  पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । हरिद्वार महाकुंभ के 12 और 14 अप्रैल के शाही स्नानों को लेकर पुलिस ने यातायात प्लान जारी कर दिया है। आईजी कुंभ मेला संजय गुंज्याल के मुताबिक भीड़ की संभावित परिस्थितियों, श्रद्धालुओं और स्थानीय जनता की सुविधा को देखते हुए यातायात प्रतिबंध लागू किए जाएंगे। शहरी क्षेत्र में अत्यधिक दबाव बढ़ने पर ही रूट बदला जाएगा। रूट प्लान 11 अप्रैल की रात से लागू हो जाएगा। बड़े एवं छोटे वाहन-नगला इमरती सर्विस लेन से लक्सर रोड के लिए डायवर्ट होंगे। वाहन लक्सर मार्ग से जगजीतपुर पार्किंग मातृसदन होकर दक्षद्वीप पार्किंग पहुंचेंगे। वाहनों को सिंहद्वार से राष्ट्रीय राजमार्ग होते हुए बहादराबाद-रुड़की से वापस भेजा जाएगा। जगजीतपुर एवं दक्ष द्वीप पार्किंग भरने और इस मार्ग में यातायात का दबाव अधिक होने पर वाहनों को गौरीशंकर पार्किंग में लाया जाएगा। इसी मार्ग से वाहनों को वापस भेजा जाएगा। रोडवेज बसों को नगला इमरती सर्विस लेन से लक्सर रोड के लिए डायवर्ट किया जाएगा। बसें लक्सर मार्ग से बैरागी पार्किंग मातृसदन होकर दक्षद्वीप पार्किंग पहुंचेंगी। बसों को सिंहद्वार से एनएच

उत्तराखंड में कोरोना का नया रिकॉर्ड दर्ज ; 1233 नए कोरोना केस

  गणेश वैद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  देहरादून। उत्तराखंड में शनिवार को कोरोना का नया रिकॉर्ड बना है। प्रदेशभर में 1233 नए कोरोना केस सामने आए हैं। कोरोना वायरस से तीन संक्रमितों की मरीजों की मौत भी हो गई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, मृतकों की संख्या 1752 और एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 6241 पहुचं गई है। कोरोना के देहरादून जिले में सबसे ज्यादा 589, हरिद्वार में 254, नैनीताल में 129, यूएस नगर में 90, पौड़ी में 50, चमोली व रुद्रप्रयाग में 16-16, अल्मोड़ा में 14, पिथौरागढ़ में 6, बागेश्वर व चंपावत में 4-4 व उत्तरकाशी में 3 नए मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई है। प्रदेश में करीब छह माह बाद इतने ज्यादा केस सामने आए हैं। जबकि, उत्तराखंड में कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 47 हो गई है।