सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

देश-विदेश लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सेल का तीसरी तिमाही के दौरान हॉट मेटल, क्रूड स्टील और विक्रेय इस्पात का अब तक का सर्वाधिक तिमाही उत्पादन

लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  नई दिल्ली .  स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड ( सेल )  ने  31  दिसंबर ,   2020   को समाप्त  हुए  तिमाही के दौरान हॉट मेटल ,  क्रूड स्टील और  विक्रेय इस्पात  का  अब तक का सर्वाधिक  तिमाही उत्पादन  हासिल  किया  है  और  पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के मुक़ाबले शानदार वृद्धि दर्ज की है। वित्तवर्ष   ’ 21  में उत्पादन   तीसरी तिमाही  ’21 तीसरी तिमाही  ’20 %  वृद्धि नौमाही  ’ 21 दूसरी तिमाही  ’21 पहली तिमाही  ’21 हॉट मेटल  ( लाख टन ) 48.0 43 . 0 12% 116 . 0 41 . 3 27 . 0 क्रूड स्टील  ( लाख टन ) 43.7 40 . 0 9% 106 . 0 38 . 2 25 . 0 विक्रेय इस्पात  ( लाख टन) 41.5 39 . 0 6% 102 . 0 37 . 5 23 . 0 * 10 लाख टन = 1 मिलियन टन इस दौरान  कंपनी  के विक्रय  में भी  बढ़ोत्तरी दर्ज हुई है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही के दौरान विक्रय  ( घरेलू और निर्यात मिलाकर )  में ,  पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के मुक़ाबले  5.6 % वृद्धि दर्ज की है। इसी के साथ  अप्रैल-दिसंबर  2020  की  नौमाही के दौरान कुल विक्रय में भी कंपनी ने वृद्धि दर्ज की है। वित्तवर्ष   ’ 21  में विक्रय   तीसरी तिमा

चैपर वायरस  की दस्तक से वैज्ञानिकों के होश पाख्ता

चैपर वायरस  की दस्तक से वैज्ञानिकों के होश पाख्ता कोरोना वायरस के बाद Chapare virus की दस्‍तक से दहले वैज्ञानिक सोशल काका  लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया  दिल्ली।  कोरोना वायरस के प्रकोप के बाद अब चैपर वायरस की आहट ने सबको चौंका दिया। अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) ने हाल ही में बोलीविया में एक दुर्लभ वायरस की खोज की है। खास बात यह है कि यह वायरस मानव से मानव में हस्‍तांरित होता है। यह वायरस के एक परिवार से संबंधित है, जो इबोला जैसे रक्‍तस्रावी बुखार पैदा कर सकता है। वैज्ञानिकों के अनुसार वर्ष 2019 में बोलीविया की राजधानी ला पाज में दो सं‍क्रमित व्‍यक्तियों के संपर्क में आने से तीन स्वास्थ्य कर्मियों इसकी चपेट में आ गए थे। वर्ष 2003 में पहली बार पता चला था इस वायरस के बारे में  वायरस हेमरेजिक फीवर (CHHF)एक रक्‍तस्रावी बुखार है। वर्ष 2003 में पहली बार बोलीविया में इस वायरस को चिन्हित किया गया। बोलीविया में पहली बार चैपर वायरस से संक्रमित मरीज सामने आए। इसके बाद कई वर्षों तक   इसका दूसरा प्रकोप वर्ष 2019 में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। 2004 में ला पाज से 370 मील पूर्व में

जमीन  नहीं अब अंतरिक्ष से वार की फिराक में चीन 

जमीन  नहीं अब अंतरिक्ष से वार की फिराक में चीन  सोशल काका  लोकल न्यूज  इंडिया  हाल ही में एक अमेरिकी थिंक-टैंक की रिपोर्ट आई है जिसमें कहा गया है क‍ि चीन ने भारतीय सैटेलाइट्स पर कई बार हमले किए हैं। यह हमले सैटेलाइट्स नष्‍ट करने के लिए नहीं, बल्कि उसका कंट्रोल हासिल करने के लिए किए गए थे। किसी सैटेलाइट को खत्‍म करने के कई तरीके हैं।आज की टेक्‍नोलॉजी इतनी ऐडवांस्‍ड है कि किसी देश से युद्ध करने के लिए गोला-बारूद के इस्‍तेमाल की कोई जरूरत नहीं। एक कम्‍प्‍यूटर के जरिए किसी भी देश को आसानी से पंगु किया जा सकता है। हर देश संचार, मौसम, शिक्षा और बहुत सारी चीजों के लिए सैटेलाइट्स का इस्‍तेमाल करता है। अंतरिक्ष में तैरते इन सैटेलाइट्स का कंट्रोल हैकर्स अपने हाथ में ले सकते हैं। ऐसा पहले भी हुआ है और आगे भी होता रहेगा। भारत के लिए भी साइबर हमले चिंता की बात हैं। खासतौर से तब जब चीन के साथ सीमा पर बेहद तनावपूर्ण स्थिति है।  आखिर क्या बला है सैटेलाइट्स वारफेयर? आइये देखते हैं : ऐंटी-सैटेलाइट वेपन से भी उड़ाई  हैं  सैटेलाइट भारत के अलावा अमेरिका, रूस और चीन ने ही ASAT मिसाइल के सफल टेस्‍ट किए

करोना से दिल के मरीज विशेष सावधानी बरतें-डा. एस.एस. सिबिया

करोना से दिल के मरीज विशेष सावधानी बरतें-डा. एस.एस. सिबिया विजय शुक्ल  लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया दिल्ली. कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया डरी हुई है, जहां अबतक लाखों लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों लोगों का अभी भी इलाज चल रहा है। ऐसे समय में जब दिल की बीमारियां देश में तेजी से बढ़ रही हैं और मृत्यु का एक प्रमुख कारण बनी हुई हैं। एक अनुमान के अनुसार विश्वस्तर पर, हर साल 20 करोड़ से भी ज्यादा लोगों में सीएडी की पहचान होती है और अबतक 2 करोड़ लोगों की जान जा चुकी है जिसके अनुसार इस बीमारी की मृत्युदर 10 प्रतिशत है। भारत में, हर साल 35 लाख लोगों की मौतों के साथ लगभग 6 करोड़ लोग किसी न किसी प्रकार की दिल की बीमारी से ग्रस्त हैं। दुनिया भर के देशों की तुलना में भारत में दिल के मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा है, जो लगातार बढ़ रही है। इन आंकड़ों के अनुसार, हर रोज लगभग 9000 मरीजों की देश में मौत हो जाती है। वर्तमान में, आधुनिक चिकित्सा विशेषज्ञ बाईपास सर्जरी या एंजियोप्लास्टी, दवाइयों और इमरजेंसी ट्रीटमेंट पर ज्यादा जोर देते हैं, जिसके कारण वे हार्ट अटैक और हृदय रोगों के मूल कारण को नहीं समझ पाते हैं। यद

बढ़ते बाघ, घटता उनका ठिकाना 

बाघों की संख्या तो बढ़ी है, लेकिन चिंता का विषय है उनके रिहायशी इलाके का घटना  भारत में बाघों की संख्या बढ़ी है भारत में बाघों की संख्या बढ़ी है। बाघ संरक्षण के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब बाघों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है। लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  पर्यावरण एवं वन मंत्रालय के अंतर्गत भारतीय वन्यजीव संस्थान  ने देश भर के टाइगर रिज़र्व, राष्ट्रीय उद्यान तथा अभयारण्यों में बाघों की गिनती की। सर्वेक्षण के अनुसार, वर्ष 2018 में भारत में बाघों की संख्‍या बढ़कर 2,967 हो गयी  है। ऐतिहासिक उपलब्धि यह भारत के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि है क्योंकि देश ने बाघों की संख्या को दोगुना करने के लक्ष्य को चार साल पहले ही प्राप्त कर लिया है। वर्तमान में भारत लगभग 3,000 बाघों के साथ सबसे बड़ा एवं सुरक्षित प्राकृतिक वास बन गया है। इस रिपोर्ट के अनुसार, बाघों की संख्या में 33 प्रतिशत की वृद्धि विभिन्न चक्रों के बीच दर्ज अब तक की सर्वाधिक वृद्धि है। उल्लेखनीय है कि बाघों की संख्या में वर्ष 2006 से वर्ष 2010 तक 21 प्रतिशत तथा वर्ष 2010 से वर्ष 2014 तक 30 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी थी। बाघों

बिहार में कहीं आक्रोश में ना बदल जाय आश्वासन 

बिहार में कहीं आक्रोश में ना बदल जाय आश्वासन  जगदीप सिंह सिंधु  प्रगति के भ्रम और विकास के सच में झूलता  बिहार 2020  के अंतिम दौर में  एक बार फिर प्रदेश की 17 वीं विधान सभा के  चुनाव के मुहाने  आ पहुँचा है ! ज्ञान और  नीतियों की भूमि किस अंतर्दवंद  में पिछले 68 सालों से उलझी  है  ये आज भी एक  अन सुलझा सवाल ही है ! आज़ादी के बाद से भारत में  जिस प्रकार दूसरे प्रदेशों ने  आधुनिक ुद्धोयोगीकरण  को अपना कर भौतिक  तरक्की की बिहार उसमे लगभग हर क्षेत्र  में पीछे रह गया !  भारत में क्षेत्रफल की दृष्टि से बिहार वर्तमान में 13 वाँ राज्य है।  राज्य का कुल क्षेत्रफल 94,163 वर्ग किलोमीटर है जिसमें 92,257.51 वर्ग किलोमीटर ग्रामीण क्षेत्र है !  बिहार की अनुमानित जनसंख्या लगभग  10 करोड़ 38 लाख से कुछ ऊपर है ! संशोधित  सूचि के अनुसार बिहार में  7,18, 22 , 450   मतदाता हैं !  बिहार में 38 जिले,  534  खंड , 8406 पंचायतें  45103  गांव  199 कसबे व् शहर हैं.! विधान  सभा की 243 सीटें हैं !  203 सीटें सामान्य वर्ग की अनारक्षित , 38  अ. ज , 2 अ  ज जा  के लिए आरक्षित  सीटें हैं ! बिहार में सबसे पहली विधान सभा 1

ग्लोबल वार्मिंग के दृष्टिगत ग्राम पंचायत देवरी में किया गया पौधरोपण का कार्य 

ग्लोबल वार्मिंग के दृष्टिगत ग्राम पंचायत देवरी में किया गया पौधरोपण का कार्य  जगजीवनराम  लोकल न्यूज आँफ इंडिया  देवरी,सोनभद्र । विकासखंड म्योरपुर के ग्राम पंचायत देवरी में कोटेदार श्रीमती कमला देवी के द्वारा पर्यावरण संरक्षण के निमित्त पौध रोपण किया गया ।आजकल ग्लोबल वार्मिंग अपने उत्कृष्ट सीमा पर पहुंच चुका है। यह समस्या संपूर्ण विश्व की है यदि पौधरोपण, वृक्षारोपण अभियान व्यापक तौर पर न चलाया जाए तो इसका परिणाम भयावह होगी।  वृक्ष धरा के आभूषण हैं करते दूर प्रदूषण हैं।  पर्यावरण का संरक्षण जरूरी है क्योंकि इनके बगैर जिंदगी अधूरी है। पर्यावरण को हम सब मिलकर बचाएं। ज्यादा से ज्यादा वृक्ष  लगाए।  इस मॉडर्न वैश्विक युग में प्रकृति का तीव्र  दोहन किया जा रहा है। इसका प्रभाव जलवायु पर अनायास ही पड़ रहा है ।कहीं बाढ , कहीं सूखा, कहीं भूकंप, ज्वालामुखी का विस्फोट होना प्रायः देखा जा रहा है ।                       ग्लोबल वार्मिंग एक व्यापक विचारधारा है ।इसका अर्थ अभी भी हम में से अधिकांश लोगों को स्पष्ट नहीं है ।ग्लोबल वार्मिंग पृथ्वी के वातावरण के  तापमान में वृद्धि को दर्शाता है पृथ्वी के

फ्लाईओवर गिर गया कोई बड़ी बात नहीं : वशिष्ट गोयल 

फ्लाईओवर गिर गया कोई बड़ी बात नहीं : वशिष्ट गोयल  पहले भी हीरो हौंडा फ्लाईओवर का हिस्सा गिरा क्या हुआ यहां फ्लाईओवर पानी में डूबे या गिर जाए एजेंसियों पर नहीं होती कार्रवाई सरकारी लैब में फ्लाई ओवरों के मटेरियल की कराई जाए जांच   रिटायर्ड मेजर सतबीर शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  गुड़गांव ।बादशाहपुर में 6 किलोमीटर लंबा बन रहे निर्माणाधीन फ्लाईओवर गिरने पर नव जन चेतना मंच के संयोजक वशिष्ठ कुमार गोयल ने गुस्सा जाहिर किया और कहा कि अब तो ऐसा लगता है कि गुरुग्राम में कोई फ्लाईओवर गिर जाए यहां के प्रशासनिक अधिकारियों और सरकार के लिए कोई नई बात और बड़ी बात नहीं है। अभी हाल ही में हीरो होंडा चौक फ्लाईओवर का हिस्सा गिरा था। 2 महीने तक दिल्ली जयपुर नेशनल हाईवे पर आवागमन फ्लाईओवर पर बंद था। किस एजेंसी पर कार्रवाई हुई अब निर्माणाधीन एलिवेटेड फ्लाई ओवर गिर गया है तो भी कोई बड़ी बात नहीं है क्योंकि गुरुग्राम में अंडर पास में पानी भर जाए। फ्लाईओवर पानी में डूब जाए या फ्लाईओवर गिर जाए यहां ना ही निर्माण करने वाली कंपनियों पर कार्रवाई होती है और ना ही सरकार कोई ठोस कदम उठाती है। वशिष्ट कुमार ग

जिलाध्यक्ष गार्गी कक्कड़ करेंगी पार्टी को और मजबूत: नवीन गोयल7

जिलाध्यक्ष गार्गी कक्कड़ करेंगी पार्टी को और मजबूत: नवीन गोयल जिला सचिव ने नवनियुक्त जिला अध्यक्ष का किया स्वागत शक्तिराज लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  गुरुग्राम । भारतीय जनता पार्टी के जिला सचिव नवीन गोयल ने शुक्रवार को गुरुग्राम की नवनियुक्त जिला अध्यक्ष गार्गी कक्कड़ का स्वागत करने पहुंचे। उन्हें मिठाई खिलाने के साथ बुके देकर भव्य स्वागत किया। जिलाध्यक्ष गार्गी कक्कड़ ने विश्वास दिलाया कि पार्टी की मजबूती के लिए सभी कार्यकर्ताओं, नेताओं को साथ लेकर वे काम करेंगी। पार्टी में हर व्यक्ति महत्वपूर्ण होता है।  जिला अध्यक्ष गार्गी कक्कड़ के स्वागत के दौरान जिला सचिव नवीन गोयल के साथ जिला कोषाध्यक्ष प्रवीण अग्रवाल, जिला सचिव राजेश गुलिया, सेक्टर-10ए आरडब्ल्यूए प्रधान कमांडर (रिटायर्ड) उदयवीर यादव भी मौजूद रहे। जिला अध्यक्ष गार्गी कक्कड़ के स्वागत के मौके पर जिला सचिव नवीन गोयल ने कहा कि जिस तरह से प्रदेश में ओमप्रकाश धनखड़ को पार्टी की मजबूती के लिए प्रदेश अध्यक्ष चुना गया, उसी तरह अब गुरुग्राम में श्रीमती गार्गी कक्कड़ को प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने चुना है। लम्बे समय से पार्टी के सा

कैनविन फाउंडेशन ने करवाए दो और प्लाज्मा डोनेट

कैनविन फाउंडेशन ने करवाए दो और प्लाज्मा डोनेट अब तक करवाए जा चुके हैं 9 प्लाज्मा डोनेट कैनविन ने प्लाज्मा डोनेशन की प्रेरणा को शहर में लगाए हैं बोर्ड   शक्ति राज लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  गुरुग्राम । कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन में जनता को सहयोग करने के साथ सुविधाएं पहुंचाने में अग्रणी रही कैनविन फाउंडेशन अब कोरोना पॉजिटिव मरीजों को प्लाज्मा डोनेट करवाने में अहम भूमिका निभा रही है। गुरुवार को भी दो लोगों से यहां कादीपुर स्थित रोटरी ब्लड बैंक में प्लाज्मा डोनेट करवाया गया।  कैनविन फाउंडेशन के संस्थापक डीपी गोयल व सह-संस्थापक नवीन गोयल ने बताया कि गुरुग्राम में प्लाज्मा बैंक की शुरुआत होने के साथ ही संस्था ने कोरोना पॉजिटिव से नेगेटिव हुए लोगों के प्लाज्मा डोनेट करवाने शुरू कर दिए थे। उसके बाद लगातार संस्था के वॉलंटियर प्लाज्मा डोनेशन के काम में लगे हुए हैं। गुरुवार को भी सिविल सर्जन डा. विरेंद्र यादव, उप-सिविल सर्जन डा. अनुज गर्ग, डा. सुनील की मौजूदगी में कैनविन की टीम से संदीप शर्मा व विवेक शर्मा के नेतृत्व में दो युवकों अभिनव नागपाल व नीरज शर्मा से प्लाज्मा डोनेट करवाया गया। ये दो

"इंडिया स्टार इंडिपेंडेंट अवार्ड 2020"  से सम्मानित हुए भानियावाला देहरादून निवासी वरिष्ठ समाजसेवी योगेश राघव 

"इंडिया स्टार इंडिपेंडेंट अवार्ड 2020"  से सम्मानित हुए भानियावाला देहरादून निवासी वरिष्ठ समाजसेवी योगेश राघव  पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। "इंडिया स्टार बुक ऑफ रिकॉर्ड "ने भानियावाला देहरादून निवासी वरिष्ठ समाजसेवी योगेश राघव को विगत कई वर्षों से निस्वार्थ भाव से समाजसेवा एवं उत्कृष्ट कार्यों के लिए 74वें स्वतंत्रता दिवस पर उत्तराखंड से चयनित कर "इंडिया स्टार इंडिपेंडेंट अवार्ड 2020" से सम्मानित किया । योगेश राघव को इससे पहले भी कई राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय अवार्ड्स से नवाजा जा चुका है। उनके द्वारा वैश्विक महामारी कोरोना के चलते सैकडों जरूरतमंद लोगों की सहायता करने हेतु कई संस्थाओं और संगठनों ने कोरोना योद्धा के सम्मान से भी पुरस्कृत किया है । योगेश राघव हमेशा अपने क्षेत्र की जनता के लिए और जनहित के कार्यों के लिए अपनी  आवाज़ बखुबी बुलन्द करते हुए सक्रिय रहते है , इसलिए वह अपने क्षेत्र में सराहनीय कार्यो के लिए सदैव चर्चा का बिषय बने रहते हैं । योगेश राघव ने कहा कि वह सदैव समाज के उत्थान और जनहित में कार्य करते रहे हैं और भविष्य

७४वें स्वतंत्रता दिवस पर  हुआ पहला ऑनलाइन हिंदी कवि सम्मेलन आयोजित

७४वें स्वतंत्रता दिवस पर  हुआ पहला ऑनलाइन हिंदी कवि सम्मेलन आयोजित लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  गुजरात ।आणंद खंभोलज साहित्य सेवा संस्थान 15 अगस्त 2020 को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दोपहर 1:30 बजे, भारत भर के कई कवि मित्रों ने गुजराती / हिंदी भाषा की उम्मीदवारी दर्ज की।  भाग लेने वाले उम्मीदवार 153 हिंदी / गुजराती कवि मित्रों ने अपनी रचनाएँ प्रस्तुत कीं।मंच 157सेभरा हुआ था।  स्वागत रेव. फादर अरुल, दीप प्रगट्य अतिथियों द्वारा , प्राथॅना प्रीति परमार 'प्रीत ’अतिथि परिचय फुलहार शैलेष वाणिया “ शैल ”अध्यक्ष श्री द्वारा।     फादर टाइटस गुजरात मिझापुर हाईस्कूल प्रिन्सिपल, श्रीमती आरती तिवारी दिल्ली, प्रीति हर्ष नागपुर महाराष्ट्र, शिवलाल गोयल राजस्थान, रमेशभाई बिहार, डॉ. गुलाबचंद पटेल, महात्मा गांधी मंच के अध्यक्ष, राजेन्द्र भट्ट साहेब गुजरात, शैलेष क्रिस्टी, ललिता वर्मा उत्तरप्रदेश, सुनिलदत्त मिश्रा फिल्म एक्टर छत्तीसगढ़, प्रियंकामितरा उत्तराखंड, कान्ति लाल मेधवाल कवि, लेखक, पत्रकार राजस्थान से उपस्थित अतिथियों ने संदेश दिया संस्था के कामकाज का स्वागत किया।  डॉ। गुलाब पटेल, शैलेष वाणिया &quo

बाबा की ‘कोरोनिल’ पर फिर कोहराम   

बाबा की ‘कोरोनिल’ पर फिर कोहराम    कोरोनिल ट्रेडमार्क के इस्तेमाल पर 10 लाख जुर्माने के साथ मद्रास हाइकोर्ट ने लगाई रोक    पंडित  विनय शर्मा  लोकल  न्यूज़ ऑफ इंडिया  हरिद्वार। पतंजलि  द्वारा कोरोनिल ट्रेडमार्क इस्तेमाल करने पर मद्रास हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। न्यायालय ने पतंजलि द्वारा कोरोना के लिए इम्यूनिटी बूस्टर के तौर पर लॉन्च की गई कोरोनिल दवा के खिलाफ य़ह आदेश जारी किया। साथ ही न्यायालय ने पतंजलि और दिव्य योग मंदिर ट्रस्ट पर 10 लाख रुपए का जुर्माना भी ठोका है। सनद रहे कि चेन्नई की एक कंपनी कि याचिका पर सुनवाई करते हुए 17 जुलाई को जस्टिस सी.वी कार्तिकेयन ने कोरोनिल नाम का उपयोग करने पर 30 जुलाई तक रोक लगाई थी जो अब पूर्ण रूप से कर दिया गया है। दरअसल चेन्नई की अरुद्रा इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड ने जून 1993 में Coronil 92 तथा Coronil 213 SPL नाम के ट्रेडमार्क पंजीकृत कराए थे। कंपनी इन नामों से केमिकल बनाती है। उक्त दोनों नामों के ट्रेडमार्क अधिकार 2027 तक अरुद्रा के पास हैं। लिहाज़ा कोई और इन नामों से अपने उत्पाद नही निकाल सकता है। पतंजलि द्वारा कोरोना के लिए कोरोनिल नाम स

अखण्ड ब्राह्मण सभा उत्तराखंड ने राम मंदिर निर्माण में भूमि पूजन के लिए हरिद्वार से अयोध्या भेजा गंगाजल...

अखण्ड ब्राह्मण सभा उत्तराखंड ने राम मंदिर निर्माण में भूमि पूजन के लिए हरिद्वार से अयोध्या भेजा गंगाजल...   पं विनय शर्मा लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया हरिद्धार। उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन में हरिद्वार हर की पौड़ी से गंगाजल विभिन्न हिन्दू संगठन  भेज रहे है इसी कड़ी में अखण्ड ब्राह्मण सभा उत्तराखंड ने भी गंगाजल भेजा । अखण्ड ब्राह्मण सभा के युवा प्रदेश अध्यक्ष आदित्य झा ने कहा करोड़ो हिन्दुओ का सपना राम मंदिर का निर्माण अब पूरा होने जा रहा है यह पहला मौका होगा दिवाली पर्व आने से पहले  सभी देशवासी अगस्त में ही दिवाली मनाएंगे । प्रदेश अध्यक्ष आशीष गौड़ ने कहा भगवान राम के आशीर्वाद से भारत जल्द ही विश्व गुरु बनेगा । इस मौके पर युवा जिलाध्यक्ष विशाल गोस्वामी ने कहा राममंदिर निर्माण कार्य के  साथ ही राम भक्तो की भावनाएं भी पूर्ण हो रही है व  भगवान  राम की कृपा से जल्द ही अब कोरोना महामारी से भारत को मुक्ति मिलेगी। इस मौके पर प्रदेश मीडिया प्रभारी गगन नामदेव,  जिला उपाध्यक्ष विनय शर्मा , गौरव भारद्वाज, गढ़वाल प्रभारी धीरज शर्मा, जिला मीडिया प्रभारी जितेंद्र पांडे, कर्ण

लो आ गया राफेल

लो आ गया राफेल रिटायर्ड लेफ्टिनेंट बच्चू सिंह लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया दिल्ली। फ्रांस से उड़कर राफेल विमानों पहली खेप आज भारत पहुच रही है। चीन और पाकिस्तान दोनों सीमाओं पर पिछले कुछ समय से बढ़ी हुई तनातनी के मद्देनजर, इन विमानों का भारतीय वायु सेना के बेड़े में शामिल होना, बेहद खास माना जा रहा है। विशेषज्ञों की मानें तो राफेल विमान उपमहाद्वीप में शक्ति संतुलन साधने में बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले हैं। बात कई साल पहले की है, तब केंद्र में यूपीए की सरकार थी। मेरी नियुक्ति उस समय जिस स्क्वाड्रन के साथ थी वह देश की पश्चिमी सीमा की सुरक्षा में तैनात हुआ करता था। तत्कालीन भारत सरकार की 126 राफेल विमानों की डील फ्रांस के साथ आखिरी चरणों पर थी, विलंब भले हो रहा था पर कार्य प्रगति पर था। इसी प्रगतिशील कार्य के बीच राफेल जंगी जहाजों का एक बेड़ा मध्य पूर्व एशिया के एक नेवल फ्रेंच बेस से भेजा गया। इन विमानों को हमारी वायु सेना के साथ अभ्यास करना था, ताकि इसकी क्षमताओं से हम अवगत हो सकें। देखने मे बेहद छोटे, ये आसमानी परिंदे जब हमारे हवाई इलाके में हमारे ही सुखोई 30 के साथ कलाबाजियां खाते

आखिर शिव जी को जल क्यों चढ़ाया जाता है?

आखिर शिव जी को जल क्यों चढ़ाया जाता है? पंडित विनय शर्मा लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया हरिद्वार ।आखिर शिव जी को जल चढ़ाने के पीछे का राज क्या है? आप संभवतः जानते हो अगर नही तो आइये आपको लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया के इस छोटी सी जानकारी से अवगत कराता हूँ। समुद्र मंथन से निकले हलाहल या कालकूट विष से जब संसार जलने लगा और सृष्टि पर संकट आ गया तो संसार के कल्याण के लिए भगवान भोलेनाथ ने उसे अपने कंठ में धारण कर लिया. विष शरीर में न समा जाए इसके लिए माता पार्वती ने भोलेनाथ का कंठ दबाया.   इस तरह विष कंठ में ही स्थिति रह गया और भगवान नीलकंठ हो गए. विष के प्रभाव से प्रभु के शरीर में जलन महसूस हुई तो ब्रह्माजी के सुझाव पर देवों ने उनके मस्तक पर जल डालकर शांत करने की कोशिश की थी. शिवजी को जल अतिप्रिय है. इसीलिए जलाभिषेक किया जाता है.   गंगाजी उनकी जटाओं में वास करती हैं और अमृत बरसाने वाले चंद्रमा मस्तक पर विराजते हैं. संसार में जिसे कोई धारण नहीं कर सकता, जिसका कोई आसरा नहीं बनता, भोलेनाथ उसको प्रेम से स्वीकार कर लेते हैं, इसीलिए वह नाथों के भी नाथ भोलेनाथ हैं.   शिवजी की आराधना पूरे वर्ष करनी चाहिए ल