सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

Featured Post

लेटे हनुमान मंदिर के छोटे महंत स्वामी आनंद गिरि निरंजनी अखाड़े से निष्कासित, जानिए क्या रही वजह

गौरव शुक्ल लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  प्रयागराज । श्री निरंजनी अखाड़ा ने बड़ा कदम उठाते हुए बड़े हनुमान मंदिर के छोटे महंत व योग गुरु स्वामी आनंद गिरि को बाघम्बरी मठ व निरंजनी अखाड़े से निष्कासित कर दिया गया है। बात चीत में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष व निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत नरेंद्र गिरि के शिष्य योगगुरु स्वामी आनंद गिरि पर की गई कार्रवाई की पुष्टि खुद परिषद अध्यक्ष ने की है। महंत नरेंद्र गिरि के शिष्य होने के कारण योगगुरु को अखाड़े के सबसे मजबूत लोगों में माना जाता रहा है। लेकिन पिछले कुछ समय से गुरु और शिष्य के बीच में मतभेद किसी न किसी रूप में दिखता रहा। हालांकि सार्वजनिक मंच पर कभी न तो महंत नरेंद्र गिरि ने योगगुरु के खिलाफ टिप्पणी की और न ही स्वामी आनंद गिरि ने कभी महंत नरेंद्र गिरि पर किसी प्रकार का बयान जारी किया। महंत नरेंद्र गिरि का कहना है कि योगगुरु ने नासिक, उज्जैन, प्रयागराज और हरिद्वार कुम्भ में अपने पूरे परिवार को बुलाया था। जबकि अखाड़े की परंपरा के अनुसार परिवार से सम्बंध नहीं रखा जा सकता है। माता-पिता का सम्मान किया जा सकता है, लेकिन अखाड़े की एक परंपरा है। एक माह पूर्व द
हाल की पोस्ट

17मई को खुलेंगे बाबा केदारनाथ के द्वार;पंचमुखी भगवान की डोली हुई धाम के लिए रवाना

  गणेश वैद  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  उखीमठ( रूद्रप्रयाग)।  बाबा केदारनाथ भगवान की पंचमुखी डोली आज श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से सादगीपूर्वक केदारनाथ धाम को प्रस्थान हुई। इस अवसर पर रावल भीमाशंकर लिंग, पुजारी बागेश लिंग, देवस्थानम बोर्ड के अपरमुख्य कार्यकारी अधिकारी बी.डी. सिंह , कार्याधिकारी एनपी जमलोकी, डोली प्रभारी यदुवीर पुष्पवान सहित प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे। कल केदारनाथ पहुंचेगी। देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि 17 मई को प्रात:पांच बजे श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुलेंगे चारधाम यात्रा स्थगित है अत: कोरोना महामारी को देखते हुए केवल मंदिरों के कपाट खुल रहे है।  पूजापाठ से जुड़े कुछ ही लोगों को धामों में जाने की अनुमति दी गयी है। आज दिन में 12.15 बजे श्री यमुनोत्री धाम के कपाट खुलेंगे। जबकि कल 15 मई गंगोत्री धाम एवं 18 मई प्रात: को श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खुल रहे है।

वर्षों से बंद पड़े आईडीपीएल से जल्द शुरू होगा आक्सीजन गैस उत्पादन

  गणेश वैद  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  ऋषिकेश। प्रदेश में ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने का प्रदेश सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है।ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के उद्देश्य से ऋषिकेश स्थित आईडीपीएल में ऑक्सीजन प्लांट का दोबारा से शुरू करने की तैयारी कर ली गई है।आईडीपीएल ऑक्सीजन प्लांट को शुरू करने का जिम्मा सेना के कंधों पर है।सेना के इंजीनियरों ने मोर्चा भी संभाला लिया है. शुक्रवार को ऋषिकेश विधायक और उत्तराखंड विधानसभा के अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने सेना के अधिकारियों से जानकारी भी ली. विधानसभा अध्यक्ष अग्रवाल ने कहा कि ऑक्सीजन प्लांट को पुनर्जीवित करने के लिए सेना के इंजीनियरों ने 90 प्रतिशत सफलता हासिल कर ली है. सेना के इंजीनियरों की टीमों पिछले 12 दिनों से ऑक्सीजन प्लांट को शुरू करने में लगी हुई है।15 साल पहले तक प्लांट चलता था। लेकिन अब मशीनें जंग खा गई है।सेना के इंजीनियरों ने दिन-रात काम कर रहे है। सेना के अधिकारियों ने विधानसभा अध्यक्ष अग्रवाल को जानकारी देते हुए बताया कि इंजीनियरों द्वारा एयर सेपरेटर पर कार्य चल रहा है, जिसमे

अब उत्तराखंड में भी मंडराने लगा ब्लैक फंगस का खतरा

  गणेश वैद  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  देहरादून । उत्तराखंड में भी ब्लैक फंगस के दो मामले आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की चुनौतियां भी बढ़ गई।देश और दुनिया में कोरोनावायरस के साथ-साथ अब ब्लैक फंगस बीमारी का खतरा मंडरा रहा है।ज्यादातर मधुमेह के रोगी इस बीमारी की चपेट में आ रहे है। यह बीमारी दिमाग, फेफड़े और त्वचा को प्रभावित कर रही है।ब्लैक फंगस को म्यूकोरमायकोसिस संक्रमण का नाम भी दिया गया है।  इस बीच उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में इसके तीन मामले आए है जिनमे 2 की पुष्टि तो हो गई है जबकि एक अपुष्ट मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि देहरादून के एक निजी अस्पताल में इन मरीजों को एडमिट करवाया गया है। वहां इनका इलाज चल रहा है। अब तक सूत्रों द्वारा इस बात की जानकारी मिली है और इस पर अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। निजी अस्पताल के मुताबिक 2 मरीजों का इलाज किया जा रहा है जबकि एक मरीज अभी अस्पताल की इमरजेंसी में बैठा हुआ है। उसकी रिपोर्ट आनी बाकी है।

नशे के सौदागरों के सहयोगी दोनो पुलिसकर्मियों की जमानत याचिका हुई खारिज

  विभाग की गोपनीय सूचना करते थे लीक गणेश वैद  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार ।नशे के सौदागरों के सहयोगी आरोपी दो पुलिसकर्मियों की जमानत याचिका विशेष न्यायाधीश एनडीपीएस (नारकोटिक्स) चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश भारत भूषण पांडे ने निरस्त कर दी। शासकीय अधिवक्ता कुशलपाल सिंह चैहान ने बताया कि एटीएफ,एडीटीएफ उत्तराखंड प्रभारी निरीक्षक शरद चन्द गुसांईं को मार्च 2021 को ज्वालापुर क्षेत्र में बड़े स्तर पर स्मैक तस्करी की गोपनीय सूचना मिली थी जिसमे आरोपी राहिल पुत्र मुस्तफा व सत्तार पुत्र असगर अन्य लोगों के साथ मिलकर अवैध मादक पदार्थों का व्यापार कर रहे हैं। सूचना के आधार पर निरीक्षक ने उच्च अधिकारियों से अनुमति लेकर उक्त सभी लोगों के मोबाइल की सीडीआर प्राप्त की थी। सीडीआर में मुख्य आरोपी सत्तार की देखरेख में संगठित गिरोह एक महिला की मदद से मादक पदार्थों (स्मैक)का अवैध व्यापार करने का खुलासा हुआ था। 21 अप्रैल 2021 में पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी सत्तार अपने साथियों के साथ स्मैक का कार्य कर रहा है। जिस पर प्रभारी निरीक्षक ने तीन टीमें बनाकर आरोपी राहिल के घर पर दबिश दी थी। जहां पर तलाशी लेने पर उसके

युवाओं व व्यापारियों के लिए महामारी में संजीवनी है डिजिटल मार्केटिंग

शेर सिंह (साहिल कुशवाहा) (डिजिटल मार्केटियर फाउडर डिजिटल इनफिनिटी प्राइवेट लिमिटेड) If your business is not on the internet, then your business will be out of the business – Bill Gates  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  उक्त लाइन विश्व के सबसे अमीर व्यक्ति बिल गेट्स ने कही हैं। इस वैश्विक महामारी ने इस बात को और ही पुख्ता कर दिया है। आज व्यापार छोटा हो या बड़ा सभी को आनलाइन सर्पोट की जरूरत है। इस आनलाइन के क्रम में सबसे अधिक कुछ भी प्रभावी है तो वो है डिजिटल मार्केटिंग, आधुनिक दौर में सभी को डिजिटल मार्केटिंग को अपनाने की जरूरत है। वर्तमान समय में ना सिर्फ व्यापारियों के लिए बल्कि युवाओं के लिए यह आपार संभावनाओं के द्वार खोल दिया है।  भारत की तमाम युनिवर्सिटीयों से मान्यता प्राप्त डिजिटल मार्केटिंग की पढाई की जा सकती है। खास बात तो यह है कि यह एक मात्र क्षेत्र है जिसमें उत्पाद से ज्यादा की मांग है। यदि गूगल की माने तो डिजिटल मार्केटिग में रोजाना हजारों नौकरिया आ रही है लेकिन कुशल डिजिटल माकेटियर न होने के कारण रिक्रूटरों को भी निराशा ही हाथ लगती है। डिजिटल मार्केटिंग अपने अंदर तमाम क्षेत्रों को समा

मिशन हौंसला;पुलिस ने 81साल के बुजुर्ग को वैक्सीनेशन में की मदद

  रेल चौकी पुलिस कर रही एक फोन कॉल पर मदद लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार ।मिशन हौसला के तहत ज्वालापुर रेल चौकी पुलिस ने एक असहाय बुजुर्ग को वैक्सीनेशन कराने में सहायता प्रदान की। 81वर्षीय बुजुर्ग शिवचरण पाल पुत्र भोलाराम निवासी पीर वाली गली आर्य नगर ज्वालापुर ने रेल चौकी प्रभारी खेमेद्र गंगवार को फोन करके वैक्सीनेशन में सहायता की मांग की गई।जिस पर प्रभारी निरीक्षक द्वारा तुरंत संज्ञान लेते हुए उपरोक्त व्यक्ति को कोरोना वैक्सीन लगवाने का कॉन्स्टेबल रविंद्र नेगी को निर्देश दिया।जिस पर कांटेब्ल रविन्द्र नेगी द्वारा बुजुर्ग शिवचरन पाल को साथ ले जाकर कोरोना वैक्सीन लगवा कर घर पर छोड़ा गया ।