सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Featured Post

खोये बच्चे को मिले माता-पिता, हर-की-पैड़ी पुलिस का जताया आभार

  पंडित विनय शर्मा  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार । उ0निरी0 दिनेश रावत का0 राजेश रावत को साथ लेकर मालवीय घाट, हर-की-पैड़ी घाट पर गश्त कर रहे थे तो घंटाघर के पास एक 04 वर्षीय नन्हा मासूम उन्हें रोते हुए दिखाई दिया। अपने माता पिता से बिछड़ने के कारण लगातार रोये जा रहे बच्चे को दिनेश रावत अपनी गोद में उठाकर बड़ी मुश्किल से सांत्वना देकर चुप कराते हुए चौकी पर ले आए एवं लगातार ध्वनि विस्तारक यंत्र, आर.टी सेट, सोशल मीडिया आदि के माध्यम से बच्चे के अभिभावकों की तलाश की गई। जिसपर ईमानदार प्रयास व ईश्वरेच्छा से उक्त बालक के माता-पिता चौकी हर-की-पैड़ी पहुंचे।  काफी देर तक बदहवास से अपने बच्चे को खोज रहे माता-पिता द्वारा अपना बच्चा "गौरव" मिलने पर पिता "सन्नी" निवासी सरसावा, हरियाणा व माँ द्वारा इस उपकार के लिए आजीवन ॠणी रहने की बात कहते हुए हर-कि-पैड़ी पुलिस का आभार प्रकट किया चूंकि सोशल मीडिया के माध्यम से भी बच्चे को ढूंढा जा रहा था इसलिए बच्चे के सकुशल मिलने पर अन्य सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी हरिद्वार पुलिस की इस त्वरित कार्रवाई पर खुशी व्यक्त की गई। 
हाल की पोस्ट

कैम्प लगा किया गया कोरोना का टीकाकरण

  सूर्य प्रकाश त्रिपाठी  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  खरौंधी ।स्वाथ्यकर्मियों ने प्राथमिक विद्यालय बोदार में कैम्प लगाकर ग्रामीणों को कोरोना की वैक्सीन लगाई। कैम्प में लगभग 80 लोगों ने कोरोना की पहली खुराक लेकर महामारी के विरुद्ध बचाव के लिए प्रतिबद्धता दिखाई।        ग्राम प्रधान ने करोना का टीका लगवा लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया और महामारी से बचाव के लिए अपेक्षित सावधानी बरतने की अपील की।

आदेश चौहान ने सीएससी सेंटर चौक बाजार में 30 बेड के ऑक्सीजन की सुविधा से लैस पाइपलाइन 15 बेड का पीडियाट्रिक वार्ड की दी सौगात

शिवम गोयल  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। आज 24 जून 24 जून को दिन गुरुवार चौक बाजार मंडल ज्वालापुर  विधायक आदेश चौहान जी के द्वारा क्षेत्रीय जनता को एक बहुमूल्य सौगात और दी गई।  कोविड-19 जैसी महामारी के समय विधायक आदेश चौहान जी ने पल-पल जनता के बीच में रहकर जनता की सेवा की है आज उसी क्रम में विधायक जी द्वारा सीएससी सेंटर चौक बाजार में 30 बेड के ऑक्सीजन की सुविधा से लैस पाइपलाइन 15 बेड का पीडियाट्रिक वार्ड जो कोविड-19 रिले के अंदेशे से पूर्व बच्चों की बच्चों की सुरक्षा हेतु सेंटर की लैब में अनेकानेक उपकरण ब्लड टेस्ट मशीन हॉट एयर ओवन अल्ट्रासाउंड मशीन 5 मल्टीप्लाई मॉनिटर इत्यादि अनेक उपकरण  जिनकी अनुमानित लागत 76 लाख रुपये के आसपास होती है । CMO शंभू कुमार झा और सीएससी सेंटर के इंचार्ज डॉक्टर धीरेंद्र सिंह को सुपुर्द किए गए माननीय विधायक आदेश चौहान जी ने कहा कि मैं अपनी क्षेत्रीय जनता के हर सुख दुख में हर समय खड़ा हुआ हूं क्षेत्र में अगर विकास की बात करें तो माननीय विधायक आदेश चौहान द्वारा क्षेत्र में बहुत सारे कार्य कराए जा रहे हैं चाहे रोजगार हो चाहे डेवलपमेंट हो चाहे किसी भी प्रकार

24 जून वीरांगना महारानी दुर्गावती बलिदान दिवस मनाया गया

  प्रदीप कुमार जायसवाल  लोकल न्यूज आँफ इंडिया  बखरीहवां,इंजानी सोनभद्र । जबलपुर में रानी दुर्गावती का जन्म 1524 मे हुआ था।  उनका राज्य गोडवाना मे था। महारानी दुर्गावती कांलिजर के राजा किर्ति सिंह की मात्र एक संतान थी। राजा संग्राम साह के पुत्र दलपत साह से उनका विवाह हुआ था। दुर्गावती विवाह 4 वर्ष बाद ही दलपत साह का निधन हो गया । उस समय दुर्गावती का पुत्र नारायण 3 वर्ष का ही था। अतः रानी ने गढ़मंडला का शासन संभाल लिया। रानी दुर्गावती की गोड़वाना समाज मे बहुत अच्छी छवि रही  ।इनकी मृत्यु 24 जून 1564 को हुई थी ।जिसकी याद में रानी वीरांगना बलिदान दिवस मनाया जाता है।  हर वर्ष कि भाति इस वर्ष भी बखरीहवां में रानी वीरांगना बलिदान दिवस मनाया गया इस अवसर पर उपस्थिति डाँ रामप्रसाद गौड, बबई सिह मरकाम, सुखई सिंह पोया, श्यामविहारी, बाबूराम ओईके,मून्नालाल ,देवसाय सिंह, असरफि सिंह, रामचरन पनिका (कलाकार )संतोष सिह, रामअतार सिंह, गोड़वाना समाज उपस्थिति थे।

हरिद्वार के युवा समाजसेवी अंकित राठौर ने किया हेल्थकेयर मेडिकल सेंटर का उदघाटन

  शिवम गोयल  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  हरिद्वार। आज ज्वालापुर के मंडी के कुँए क्षेत्र में हेल्थकेयर मेडिकल सेंटर का उदघाटन हरिद्वार के युवा समाजसेवी अंकित राठौर के द्वारा कराया गया।  अंकित राठौर ने हेल्थकेयर सेंटर डॉक्टर सलमान को माला पहना कर बधाई दी और ओर कहा कि आप के द्वारा इस छेत्र में एक सराहनीय कार्य किया गया है जिसके लिए आप बधाई पात्र है।  समाजसेवी अंकित राठौर ने मीडिया को बताया कि ये मेडिकल सेंटर गरीबो ओर मजबूर लोगो को काफी सस्ते रेट में उपचार उपलब्ध करायेगा। जिसके चलते छेत्र में बीमारियों पर रोक लग सकती है।  डॉक्टर नासिर ने बताया कि हमारे द्वारा मेडिकल में मरीज भर्ती की सुविधा,पेट संबधी रोग,ऑक्सीजन की व्यवस्था, फिजियोथेरेपी, फेफड़े सम्बंधित रोग,पथरी,लिवर, डायबटीज सम्बंधित उपचार किय्या जायेगा।  आज के उदघाटन में डॉक्टर सलमान सलमानी ,डॉक्टर नासीर मंसूरी, डॉक्टर नेहा शर्मा, डॉक्टर सुहेल ,फार्मासिस्ट डॉक्टर अदील ,यूसुफ साबरी, राजा अली, अनीस साबरी, अकरम मंसूरी, सहजाद अल्वी, रासीद सलमानी ,उमर खान, शिवम गोयल, अनीस अल्वी, छोटा अल्वी,  बबलू जी महोम्मद कैफ नईम कुरेशी शामिल रहे।

VDO ने की लाभार्थियों के आवास की जांच

  सूर्य प्रकाश त्रिपाठी  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  खरौंधी। ग्राम विकास अधिकारी अजय सिंह ने खरौंधी ग्राम में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लाभार्थियों के घर जाकर निरीक्षण किया। लाभार्थियों को अपूर्ण आवास को अतिशीघ्र पूरा करने के लिए कहा तथा जिन लाभार्थियों ने अब तक आवास का निर्माण शुरू नही किया उन्हे ग्राम पंचायत सचिव को नोटिस देने के लिए निर्देशित किया।       ग्राम विकास अधिकारी ने ग्रामीणों को विभिन्न सरकारी योजना के बारे में जानकारी देते हुए उनकी समस्याएं भी सुनी।

क्या मोरारका जी की मौत पर सवाल उठाने पर भारी पड़ेगी एफआईआर, आखिर क्या हैं राजेंद्र शर्मा -कमल मोरारका जी की बेटी और दामाद का बिकवाली प्लान

विजय शुक्ल  लोकल न्यूज ऑफ इंडिया  दिल्ली ।  कमल मोरारका जी की मौत पर सवालिया निशान का सिलसिला आगे बढे इससे पहले उनके द्वारा बनाये गए सभी संस्थानो को बेचने की फिराक में सक्रिय तिकड़ी चर्चा में हैं क्यों ? कैसे ? और किसके लिए अभी भी यह सब सवालिया निशान ही हैं एक हस्ती के गुमनाम मौत के राज की तरह।  अब भारतीय दंड संहिता 1860 की धाराओं ४२०,४०९,४६७,४६८,४७१, १२०-बी के तहत दर्ज एफआईआर की चर्चा हैं और इसी के साथ  मोरारका ऑर्गेनिक के ठिकाने लगाने और राजेंद्र शर्मा के शातिराना पहल में  उसकी बिकवाली की भी चर्चा जोरो से हैं।  अब यह सब आखिर राजेंद्र शर्मा कर क्यों रहे हैं ? क्या ऐसा करने के पीछे उनको दिवंगत कमल मोरारका जी के धर्मपत्नी का इशारा मिला हैं या इस संस्था के सबसे वफादारों को निपटाकर इसको बेचने में उनके बेटी और दामाद को भ्रमित कर सिर्फ राजेंद्र शर्मा ही इसका आनंद ले रहे हैं।  आने वाले वक़्त में यह एक बड़ा भूचाल लाने वाला खेल साबित हो सकता हैं इतने बड़े सम्मानित घराने के लिए।  क्योकि जो लोग कमल मोरारका को जानते हैं और जिनकी वजह से व्यापार और साख की इतनी बड़ी इबारत लिखी गयी उनको निपटाने से ज्यादा