सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

सीबीआई जांच नही हुई तो करूँगा इस्लाम धर्म अंगीकार- भृगुवंशी आशुतोष पांडेय

सीबीआई जांच नही हुई तो करूँगा इस्लाम धर्म अंगीकार- भृगुवंशी आशुतोष पांडेय



लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया 


कांधला, उत्तर प्रदेश। पूर्व एसपी शामली द्वारा साजिशन मुकदमो मे फसाने का आरोप लगाते हूए नौ माह बाद जेल से बाहर आये राष्ट्रीय ब्राह्मण युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भृगुवंशी आशुतोष पांडेय ने घोषणा की है कि मेरे एवम मेरे परिवार के खिलाफ पूर्व पुलिस अधीक्षक अजय पांडेय के द्वारा दर्ज कराए गए 6 मुकदमों की जांच यदि सी0बी0 आई0 से नही करायी गयी तथा मेरा व मुकदमे वादी व पूर्व पुलिस अधीक्षक अजय पांडेय का नार्को टेस्ट नही कराया गया तो मैं इस्लाम धर्म अंगीकार कर लूंगा।


उन्होने कहा कि उनके द्वारा कई वर्षों से कांधला जनपद शामली में श्री शीतला माता मंदिर, कांधला पर असमाजिक लोगों द्वारा एवं पूर्व मंत्री के गुर्गो के द्वारा अवैध कब्जा तथा मंदिर की 10 दुकानों पर अपने रिश्तेदारों द्वारा अवैध कब्जा करा कर मात्र ₹365/465 रुपए का किराया दिखा 30 वर्षों के किराए का गबन का मामला उठाया गया था। तथा मंदिर की दुर्दशा जहाँ मंदिर में स्थापित शिवलिंग तथा अन्य प्रतिमाओं पर बारिश में गंदा नाले का पानी भर रहा था उत्तर प्रदेश शासन तथा उच्च अधिकारियों से उसको इंगित करते हूए मैने शिकायत की थी। जिस पर तत्कालीन उप जिलाधिकारी कैराना अमित शर्मा ने संज्ञान लेते हुए 30 अगस्त 2019 को उक्त मंदिर पर सरकारी रिसीवर नगर पालिका परिषद कांधला के अधिशासी अधिकारी को नियुक्त कर असामाजिक व्यक्तियों के खिलाफ जांच रिपोर्ट आयुक्त महोदय सहारनपुर को प्रेषित की गई थी। शामली जनपद में एक संवाददाता अमित शर्मा के साथ उत्पीड़न को लेकर समस्त जनपद शामली के संवाददाता द्वारा तत्कालीन पुलिस अधीक्षक अजय पांडेय के खिलाफ जिलाधिकारी शामली मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन किया गया था जिसमे मेरे छोटे भाई विनीत भी एक टीवी चैनल के जिला संवाददाता होने की वजह से प्रदर्शन में मौजूद रहे थे तथा मेरे संगठन राष्ट्रीय ब्राह्मण युवजन सभा द्वारा भी पूर्ण समर्थन दिया गया था। 29 अगस्त 2019 को मेरे द्वारा तत्कालीन पुलिस अधीक्षक शामली के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति की जांच तथा उनकी दूसरी पत्नी जो विदेश में रहती है के बैंक खातों तथा उनके रिश्तेदारों के बैंक खातों की जांच कराने के लिए गृह मंत्री भारत सरकार, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार, पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश लखनऊ को लिखित रूप में मांग की गई थी। 2017 विधानसभा के चुनाव में उत्तरप्रदेश व उत्तराखंड चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को राष्ट्रीय ब्राह्मण युवजन सभा ने खुलकर समर्थन किया तथा भगवान श्री परशुराम यात्रा निकालकर ब्राह्मण समाज को एक करने का कार्य किया था। 2018 में भी इसी प्रकार चुनावी राज्यों में कार्य किया गया। 2019 लोकसभा चुनाव में 6 मार्च 2019 को लखनऊ में श्री अटल बिहारी कॉन्फ्रेंस सेंटर हाल में एक ब्राह्मण /प्रबुद्ध सम्मेलन मे मुख्य अतिथि तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी के प्रतिनिधि के रूप में दिल्ली के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी सांसद की मौजूदगी में तथा मेरी अध्यक्षता में व संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी राष्ट्रीय सलाहकार कुँवर जयेश प्रसाद के नेतृत्व में लगभग 14हजार युवाओं ने भाग लिया। देश भर में हमारी पूरी टीम ब्राह्मण समाज को एक कर वोट दिलाने का कार्य करती रही साथ ही पूर्व विधायक सहित अन्य पार्टियों के150 नेताओं को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय की अध्यक्षता में भाजपा के केंद्रीय कार्यालय में दिलाई गई। जिस कारण उत्तर प्रदेश के दो बड़े नेता मेरी लोकप्रियता को बढ़ती देख चिढ़ने लगें। जिसमें एक ब्राह्मण नेता को सत्ता में बड़ा पद दिलाने के लिए संगठन ने तन मन धन से मेहनत की थी। दोनों नेताओं ने व एक वरिष्ठ अधिकारी जो विपक्षियों की जाति के थे। सबने मिलकर तत्कालीन पुलिस अधीक्षक शामली अजय पांडे का सपोर्ट कर मेरा तथा मेरे परिवार का उत्पीड़न कराकर लगातार छह छह फर्जी मुकदमा दर्ज कर जेल में बंद करा दिया। तथा फर्जी केस हिस्ट्री जारी की गई जिसके लिये न्यायालय में एक मुकदमा भी जेल अधीक्षक के माध्यम से 4 दिसंबर को दर्ज किया गया है।


 पूर्व शामली पुलिस अधीक्षक अजय पांडे द्वारा जिस मुकदमों की धाराओं में 7 साल की सजा का प्रावधान है, तथा उक्त धारा में मुकदमों की गिरफ्तारी का प्रावधान भी नहीं है गिरफ्तारी कराई गई। तथा 25हजार का इनाम धोषित कर मेरा एवम मेरे भाई का एनकाउंटर कराने के लिए पुलिस टीम लगाई गई थी। जिससे साफ साफ पता चलता है कि व्यक्तिगत रंजिशन में सब किया गया ।


उक्त 6 मुकदमों की जांच स्थानांतरण के लिए उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने अपर पुलिस महानिदेशक मेरठ प्रशांत कुमार को दो बार पत्र लिखा तथा शासन को उनके स्थानांतरण को पत्र लिखा। शासन ने तत्कालीन पुलिस अधीक्षक अजय पांडेय को शामली से स्थानांतरण तो कर दिया। मगर किसी नेता ने उक्त मुकदमा स्थानांतरण के पत्र को मेरठ अपरपुलिस महानिदेशक कार्यालय में ही दबा दिया।जिसके बाद मुझे जेल में बंद कराकर उत्पीड़न कराया गया। जेल में जो यातनाएं दी गई है उनके लिए भी मैं अलग-अलग शिकायत करूंगा। विशेष जेल में मैंने देखा कि इस्लाम धर्म के लोगो को जो कोरोना महामारी के चलते जमानती बंद किए गए थे। उनका खुलकर का साथ दिया जा रहा था तथा जेल की गिनती के पैसे भी खुद व खाना पीना भी मिलकर किया गया। बाहर के लोगों ने अपने धर्म की रक्षा तथा एकता के कारण उन सभी जमातियों की जमानत कराकर जेल से रिहा कराया। जबकि हमारे धर्म के लोगों ने मेरा विरोध किया।जबकि मेरे द्वारा श्री शीतला माता मंदिर के हक की लड़ाई लड़ी गयी। इसलिए मैं इस्लाम धर्म परिवर्तन करूंगा और एक मकान भी मस्जिद बनाने के लिए कांधला में दान दूंगा । सरकार यदि सच्चाई का साथ दें और सच मे न्याय करना चाहती है तो हमारी मांग स्वीकार की जाए। मेरे सभी दर्ज मुकदमो में माननीय न्यायालय से जमानत मिली और जैसे 9 माह में माँ के पेट से मेरा जन्म हुआ था ठीक वैसे ही आज मै 9 माह में ही नया जन्म लेकर जेल से रिहा हुआ हूँ। मेरी गिरफ्तारी 2अक्टूबर 2019 को राष्ट्रीय ब्राह्मण युवजन सभा के केंद्रीय कार्यालय शाहदरा दिल्ली से हुई थी तथा 2 जुलाई2020 को जिला कारागार मुजफ्फरनगर से रिहा हुआ।


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वेतन तो शिक्षक का कटेगा भले ही वो महिला हो और महिला अवकाश का दिन हो , खंड शिक्षा अधिकारी पर तो जांच जारी है ही ,पर यक्ष प्रश्न आखिर कब तक  

महिला अवकाश के दिन महिलाओ का वेतन काटना तो याद है , पर बीएसए साहब को डीएम साहब के आदेश को स्पष्ट करना याद नहीं - शीतल दहलान , जिला अध्यक्ष , प्राथमिक शिक्षक संघ   सिस्टम ही तो है वरना जिस स्कूल में छः और आठ महीने से कोई शिक्षक नहीं आ रहा वहा साहब लोग जाने की जरूरत नहीं समझते  , पर महिला हूँ चीख चिल्ला ही सकती हूँ , पर हूँ तो निरीह ना - शीतल दहलान  विजय शुक्ल लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया दिल्ली।  खनन ,और शिक्षा दो ही ऐसे माफिया है जो आज सोनभद्र को दीमक की तरह खोखला कर रहे है, वो भी भ्रष्ट और सरपरस्ती में जी रहे अधिकारियो की कृपा से। बहरहाल लोकल न्यूज ऑफ इंडिया और कई समझदार लोग शायद शिक्षक पद की गरिमा को लेकर सोनभद्र में चिंतित नजर आते है।   चाहे म्योरपुर खंड शिक्षा अधिकारी को लेकर बेबाक और स्पष्ट वादी विधायक हरीराम चेरो का बयान हो कि   सहाय बदमाश आदमी है   या फिर ऑडियो में पैसे का आरोप लगाने वाली महिला शिक्षिका का अब भी दबाव में जीना और सिस्टम से लगातार जूझना जो जांच की छुरछुरछुरिया के साथ आरोपी खंड शिक्षा अधिकारी को अपने रसूख और दबाव का खेल घूम घूम कर साबित करने की इजाजत देता हो। 

विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्तिथि को लेकर जारी शासनादेश से पैदा हुई उहापोह की स्तिथि साफ़ करे बीएसए - शीतल दहलान , जिला अध्यक्ष , उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ , सोनभद्र 

विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्तिथि को लेकर जारी शासनादेश से पैदा हुई उहापोह की स्तिथि साफ़ करे बीएसए - शीतल दहलान  , जिला अध्यक्ष , उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ , सोनभद्र        सूर्यमणि कनौजिया  लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया  सोनभद्र। जनपद में ताजा ताजा जारी एक शासनादेश से शिक्षकों में एक उहापोह की स्तिथि बन गयी है जिसको लेकर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की जिला अध्यक्ष शीतल दहलान ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से मांग की है कि  वो इसको स्पष्ट करे।  पूरा मामला  मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश के दिनांक 30/08/2020 के शासनादेश संख्य2007/2020/सी.एक्स-3 के गाइड लाइन अनुपालन के क्रम में जिला मैजिस्ट्रेट /जिलाधिकारी सोनभद्र के दिनांक 31/08/2020 के पत्रांक 5728/जे.एनिषेधाज्ञा/ कोविड- 19/एल ओ आर डी /2020 के आदेशानुसार जिसके पैरा 1 मे उल्लिखित निम्न आदेश पर हुआ है।  जिसमे    1. समस्त स्कूल कॉलेज, शैक्षिक एवं कोचिंग संस्थान सामान्य शैक्षिक कार्य हेतु 30 सितम्बर 2020 तक बंद रहेंगे। यद्यपि निम्न गतिविधियों को शुरू करने की अनुमति होगी a. ऑनलाइन शिक्षा हेतु अनुमति जारी रहेगी और इसे प्रोत्साहित

सोनभद्र के बंटी-बबली का खेल अब जनता के सामने

सोनभद्र के बंटी-बबली का खेल अब जनता के सामने यू. पी. पुलिस इन्वेस्टिगेशन व पब्लिक सर्विस कमीशन का अपना फर्जी आई-डी कार्ड बनाकर जॉब लगवाने को लेकर लोगो का लाखो रुपए लूटा   मोहित मणि शुकला लोकल न्यूज़ ऑफ़ इंडिया सोनभद्र । एक ऐसा फर्जी पुलिस जो कि जनपद सोनभद्र का निवासी है और अपने फर्जी आई डी कार्ड के दम पर लोगो को जॉब दिलवाने के नाम पर व आने जाने के लिए टोल टैक्स पर पुलिस का रोब दिखा कर टोल टैक्स न देना फर्जीवारा करता आ रहा है। इस शख्स का नाम संतोष कुमार मिश्रा (पिता-आत्मजः राम ललित मिश्रा, सोनभद्र उत्तर प्रदेश) का रहने वाला है। संतोष कुमार मिश्रा फर्जी पुलिस की आई डी कार्ड बनाकर सोनभद्र में लोगो को गुमराह कर नौकरी के नाम मोटा रकम वसूल करके भागने की तैयारी में है। ये सोनभद्र या कहीं भी किसी भी टोल टैक्स पर पुलिस का फर्जी आई डी कार्ड दिखा कर निकल जाता है। इसका आई डी कार्ड "यू. पी. पुलिस इन्वेस्टिगेशन"* व "पब्लिक सर्विस कमीशन" के नाम पर बना हुआ है और बेखौफ जनपद सोनभद्र में ये घूम रहा है और लोगो को गुमराह कर रहा है। पैसे की लूट में इसकी लवर प्रिंसी भी इसका सा