सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

बंजार की तीर्थन घाटी के पेखड़ी गांव में पर्यावरण सन्तुलन को रोपी जा रही है हरियाली

बंजार की तीर्थन घाटी के पेखड़ी गांव में पर्यावरण सन्तुलन को रोपी जा रही है हरियाली



  • समुदाय आधारित हिमालयन इको टूरिज़्म सोसाइटी द्वारा जन सहभगिता से किया गया पौधरोपण

  • तीर्थन घाटी में ग्रामीण और इको पर्यटन की है आपार सम्भावना

  • घाटी में इको पर्यटन और हस्तशिल्प को दिया जाएगा बढ़ावा- अजीत ठाकुर


 



परसराम भारती 


लोकल न्यूज़ ऑफ इंडिया 


तीर्थन घाटी गुशैनी(बंजार)।हिमाचल प्रदेश जिला कुल्लु उप मण्डल बंजार की तीर्थन घाटी विश्व धरोहर ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के साथ ट्राउट मछली के लिए देश दुनिया में विख्यात है।



पार्क क्षेत्र के प्रवेश द्वार और इको जॉन में पड़ने वाली सबसे नजदीकी ग्राम पंचायत नोहण्डा पर्यटन के क्षेत्र में काफी नाम कमा चुकी है। तीर्थन घाटी की संस्था समुदाय आधारित हिमालयन इको टूरिज्म को ऑपरेटिव सोसाइटी गुशैनी द्वारा जन सहभागिता से घाटी के प्राकृतिक सौन्दर्य को बनाए रखने के लिए पौधरोपण करके सराहनीय कार्य किया जा रहा है। सोसाइटी द्वारा यह पौधरोपण कार्यक्रम इसी वर्ष जनवरी माह में शुरू किया गया था। पहले चरण में गुशैनी से पेखड़ी सड़क मार्ग के दोनों छोर पर किया जाएगा। सड़क निर्माण के दौरान यहां पर पेड़ पौधों और हरियाली को हुई क्षति की भरपाई के लिए पौधरोपण जरूरी हो गया है ताकि पर्यावरण सन्तुलन और हरियाली कायम रह सके। इसलिए सोसाइटी के सदस्यों द्वारा स्थानीय लोगों के सहयोग से इस सड़क मार्ग के दोनों छोरों पर गुशैनी से पेखड़ी तक पूरे 9 किलोमीटर में पौधरोपण का लक्ष्य रखा गया है। दूसरे चरण में नेशनल पार्क इको जॉन के साथ लगते गांव के आसपास हरियाली रोपने का लक्ष्य रखा गया है। इसी कड़ी में तीर्थन घाटी के पेखड़ी गांव के साथ लगती बशेंई धार की करीब दो हेक्टेयर बंजर भूमि का चयन किया गया। इस बंजर भूमि के टुकड़े पर सोसाइटी के सदस्यों और स्थानीय गांववासियों द्वारा करीब दो माह से पौधरोपण किया जा रहा था। इस पौधारोपण कार्यक्रम का समापन पिछले कल वीरवार को पेखड़ी गांव में किया गया।



इस कार्यक्रम के समापन अवसर पर ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के निदेशक अजीत ठाकुर ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। पेखड़ी गांव के स्थानीय लोगों ने मुख्य अतिथि का जोर शोर से स्वागत किया। मुख्य अतिथि द्वारा इस कार्यक्रम का विधिवत रूप से समापन के साथ ही बशेंई धार के इस प्लॉट में स्टाफ सहित पौधरोपण भी किया गया।



पेखड़ी गांव के साथ लगते बशेंई धार में सोसाइटी द्वारा वन विभाग के सहयोग से करीब दो हेक्टेयर भूमि के टुकड़े का चयन किया है जहाँ पर विभिन्न प्रजातियों जैसे देवदार, वान, चुलु व लेन्थस और आमलुक आदि के करीब 1500 पौधों की रोपाई की गई है।
     
हिमालयन इको टूरिज़्म को ऑपरेटिव सोसाइटी के को फाउंडर एवं मार्केटिंग एडवाइजर स्टीफन मार्शल का कहना है कि इस पौधरोपण का मुख्य उद्देश्य घाटी की बंजर भूमि पर हरियाली बनाए रखना, पर्यावरण सन्तुलन, सड़क सुरक्षा और वनों को आगजनी से हुई हानि की भरपाई करना है इसके अलावा पौधरोपण से पर्यावरण संरक्षण और वनों की आग से बचाब के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाना भी है।
          
सोसाइटी के प्रधान केशव ठाकुर का कहना है कि पौधरोपण के इस अभियान में अभी तक वन विभाग की नर्सरी से जितने पौधे उपलब्ध हो सके हैं वे रोपित किए जा चुके है। पौधों की उपलब्धता बारे वन विभाग की अन्य नर्सरियों में भी सम्पर्क साधा जा रहा है। इस कार्य के लिए वन विभाग का भी पूरा सहयोग मिल रहा है। उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों का भी नर्सरी से पौधे उपलबध करवाने के लिए आभार प्रकट किया है। इनका कहना है कि आने वाले समय में पेखड़ी गांव में सोसाइटी द्वारा नर्सरी में खुद की ही पौधशाला तैयार की जा रही है जिसमें दिसम्बर माह से बीज डाला जाएगा। उन्होंने कहा कि इस समय इनकी सोसाइटी के साथ करीब एक सौ से भी ज्यादा स्थानीय युवा प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप में पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार से जुड़े हुए हैं । पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार के साथ साथ ये युवा पर्यावरण संरक्षण के लिए भी कार्य कर रहे हैं। इनकी सोसाइटी की ओर से जंगलो में आग से बचाब के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए घाटी में कई जगह दिशा निर्देश बोर्ड लगाए गए हैं। आने वाले समय में सोसाइटी द्वारा तीर्थन घाटी को हरा भरा व स्वच्छ रखने पर कार्य जारी रहेगा इसी के तहत तीसरे चरण में देवकण्डा से रंगथर तक के करीब 200 बीघा बंजर भूमि पर पौधारोपण पर विचार चल रहा है जिसके बारे वन विभाग का सहयोग भी लिया जाएगा। इनका कहना है कि इन रोपे गए पौधों के संरक्षण और संवर्धन के लिए स्कूली बच्चों और स्थानीय गांववासियों का सहयोग लिया जा रहा है। इसके लिए हर गांव में एरिया वाइज कमेटियां बनाई जा रही है जिसमे सोसायटी के सदस्य, स्कूली छात्र और स्थानीय निवासी शामिल किए जाएंगे जो रोपे गए पौधों का संरक्षण करेंगे।
       
ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के निदेशक अजीत ठाकुर ने कहा कि पौधारोपण एक बहुत ही पुनीत कार्य है जो रोपाई के बाद इसके संरक्षण व संवर्धन पर ज्यादा ध्यान दिया जाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि तीर्थन घाटी में ग्रामीण और इको पर्यटन की आपार संभावनाएं हैं। यहाँ के लोगों को प्राकृतिक खेती की ओर अग्रसर होने की आवश्यकता है। इन्होंने कहा कि यहाँ की ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने के लिए बुनाई, सिलाई और कढ़ाई आदि में हस्तशिल्प का प्रशिक्षण दिया जाएगा।



इस मौके पर ए सी एफ सचिन शर्मा, वन परिक्षेत्राधिकारी भूपेन्द्र शर्मा, डिप्टी रेंजर भूपेंदर चौधरी, डिप्टी रेंजर नरोतम शलाठ, वन रक्षक पपिन्द्र, समिति सदस्य वली राम, कारदार लाल सिंह, वार्ड पंच प्रताप चन्द, संजय नेगी, वीरेन्द्र नेगी, सोसाइटी के सदस्य और स्थानीय गांववासी विशेष रूप से उपस्थित रहे।


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वेतन तो शिक्षक का कटेगा भले ही वो महिला हो और महिला अवकाश का दिन हो , खंड शिक्षा अधिकारी पर तो जांच जारी है ही ,पर यक्ष प्रश्न आखिर कब तक  

महिला अवकाश के दिन महिलाओ का वेतन काटना तो याद है , पर बीएसए साहब को डीएम साहब के आदेश को स्पष्ट करना याद नहीं - शीतल दहलान , जिला अध्यक्ष , प्राथमिक शिक्षक संघ   सिस्टम ही तो है वरना जिस स्कूल में छः और आठ महीने से कोई शिक्षक नहीं आ रहा वहा साहब लोग जाने की जरूरत नहीं समझते  , पर महिला हूँ चीख चिल्ला ही सकती हूँ , पर हूँ तो निरीह ना - शीतल दहलान  विजय शुक्ल लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया दिल्ली।  खनन ,और शिक्षा दो ही ऐसे माफिया है जो आज सोनभद्र को दीमक की तरह खोखला कर रहे है, वो भी भ्रष्ट और सरपरस्ती में जी रहे अधिकारियो की कृपा से। बहरहाल लोकल न्यूज ऑफ इंडिया और कई समझदार लोग शायद शिक्षक पद की गरिमा को लेकर सोनभद्र में चिंतित नजर आते है।   चाहे म्योरपुर खंड शिक्षा अधिकारी को लेकर बेबाक और स्पष्ट वादी विधायक हरीराम चेरो का बयान हो कि   सहाय बदमाश आदमी है   या फिर ऑडियो में पैसे का आरोप लगाने वाली महिला शिक्षिका का अब भी दबाव में जीना और सिस्टम से लगातार जूझना जो जांच की छुरछुरछुरिया के साथ आरोपी खंड शिक्षा अधिकारी को अपने रसूख और दबाव का खेल घूम घूम कर साबित करने की इजाजत देता हो। 

विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्तिथि को लेकर जारी शासनादेश से पैदा हुई उहापोह की स्तिथि साफ़ करे बीएसए - शीतल दहलान , जिला अध्यक्ष , उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ , सोनभद्र 

विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्तिथि को लेकर जारी शासनादेश से पैदा हुई उहापोह की स्तिथि साफ़ करे बीएसए - शीतल दहलान  , जिला अध्यक्ष , उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ , सोनभद्र        सूर्यमणि कनौजिया  लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया  सोनभद्र। जनपद में ताजा ताजा जारी एक शासनादेश से शिक्षकों में एक उहापोह की स्तिथि बन गयी है जिसको लेकर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की जिला अध्यक्ष शीतल दहलान ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से मांग की है कि  वो इसको स्पष्ट करे।  पूरा मामला  मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश के दिनांक 30/08/2020 के शासनादेश संख्य2007/2020/सी.एक्स-3 के गाइड लाइन अनुपालन के क्रम में जिला मैजिस्ट्रेट /जिलाधिकारी सोनभद्र के दिनांक 31/08/2020 के पत्रांक 5728/जे.एनिषेधाज्ञा/ कोविड- 19/एल ओ आर डी /2020 के आदेशानुसार जिसके पैरा 1 मे उल्लिखित निम्न आदेश पर हुआ है।  जिसमे    1. समस्त स्कूल कॉलेज, शैक्षिक एवं कोचिंग संस्थान सामान्य शैक्षिक कार्य हेतु 30 सितम्बर 2020 तक बंद रहेंगे। यद्यपि निम्न गतिविधियों को शुरू करने की अनुमति होगी a. ऑनलाइन शिक्षा हेतु अनुमति जारी रहेगी और इसे प्रोत्साहित

सोनभद्र के बंटी-बबली का खेल अब जनता के सामने

सोनभद्र के बंटी-बबली का खेल अब जनता के सामने यू. पी. पुलिस इन्वेस्टिगेशन व पब्लिक सर्विस कमीशन का अपना फर्जी आई-डी कार्ड बनाकर जॉब लगवाने को लेकर लोगो का लाखो रुपए लूटा   मोहित मणि शुकला लोकल न्यूज़ ऑफ़ इंडिया सोनभद्र । एक ऐसा फर्जी पुलिस जो कि जनपद सोनभद्र का निवासी है और अपने फर्जी आई डी कार्ड के दम पर लोगो को जॉब दिलवाने के नाम पर व आने जाने के लिए टोल टैक्स पर पुलिस का रोब दिखा कर टोल टैक्स न देना फर्जीवारा करता आ रहा है। इस शख्स का नाम संतोष कुमार मिश्रा (पिता-आत्मजः राम ललित मिश्रा, सोनभद्र उत्तर प्रदेश) का रहने वाला है। संतोष कुमार मिश्रा फर्जी पुलिस की आई डी कार्ड बनाकर सोनभद्र में लोगो को गुमराह कर नौकरी के नाम मोटा रकम वसूल करके भागने की तैयारी में है। ये सोनभद्र या कहीं भी किसी भी टोल टैक्स पर पुलिस का फर्जी आई डी कार्ड दिखा कर निकल जाता है। इसका आई डी कार्ड "यू. पी. पुलिस इन्वेस्टिगेशन"* व "पब्लिक सर्विस कमीशन" के नाम पर बना हुआ है और बेखौफ जनपद सोनभद्र में ये घूम रहा है और लोगो को गुमराह कर रहा है। पैसे की लूट में इसकी लवर प्रिंसी भी इसका सा